अभी-अभी: श्रीलंका को लगा चौथा झटका, थरंगा के बाद डिकवेला भी लौटे पवेलियन

टीम इंडिया और श्रीलंका के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का आखिरी और निर्णायक मुकाबला विशाखापत्तनम में खेला जा रहा है. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका की टीम ने 28 ओवर में 4 विकेट गंवा कर 168 रन बना लिए हैं. एंजेलो मैथ्यूज (6 रन) और असेला गुणारत्ने (0 रन) क्रीज पर हैं.अभी-अभी: श्रीलंका को लगा चौथा झटका, थरंगा के बाद डिकवेला भी लौटे पवेलियन

INDvSL: विशाखापट्टनम वन-डे में सीरीज जीतने के लिए मैदान में उतरेगी टीम इंडिया

इससे पहले टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया और श्रीलंका को बल्लेबाजी का न्योता दिया. भारतीय टीम में एक बदलाव हुआ है, वॉशिंगटन सुंदर बीमार हैं, उनकी जगह कुलदीप यादव को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया है. वहीं, श्रीलंका की टीम में लाहिरू थिरिमाने की जगह सदीरा समरविक्रमा को जगह मिली है.

धर्मशाला में खेले गए मैच में श्रीलंका ने भारत को मात दी थी, लेकिन मोहाली में खेले गए दूसरे वनडे मैच में टीम इंडिया ने पलटवार करते हुए मेहमानों को पटखनी देकर सीरीज 1-1 से बराबर कर ली थी.

2015 के बाद से अपनी सरजमीं पर अजेय है भारत

विशाखापत्तनम में होने वाला सीरीज का निर्णायक मैच दोनों टीमों के लिए बेहद अहम है. भारत अपने घर में अक्टूबर 2015 के बाद से कोई भी वनडे सीरीज नहीं हारा है. ऐसे में वह अपने इसी विजयी क्रम को जारी रखना चाहेगा.

विशाखापत्तनम में भारतीय टीम का रिकॉर्ड

विशाखापत्तनम में टीम इंडिया का रिकॉर्ड बहुत शानदार रहा है. भारत ने यहां खेले 6 वनडे मैचों में से 5 में जीत हासिल की है. जबकि एक में उसे हार का सामना करना पड़ा है, वहीं 2014 में वेस्टइंडीज के खिलाफ एक मैच साइक्लोन की वजह से बिना कोई गेंद फेंके रद्द हो गया था.

वाइजैग से है धोनी का खास नाता

विशाखापत्तनम का पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के साथ खासा नाता है. धोनी ने अपने वनडे करियर का पहला शतक इसी मैदान पर 2005 में पाकिस्तान के खिलाफ लगाया था. धोनी ने उस मैच में 148 रनों की पारी खेली थी.

टीम इंडिया 

टीम इंडिया की बल्लेबाजी का दारोमदार कप्तान रोहित शर्मा के कंधों पर होगा. धर्मशाला वनडे में नाजुक स्थिति में अर्धशतक जड़ने वाले महेंद्र सिंह धोनी पर भी बड़ी जिम्मेदारी होगी. पिछले मैच में शिखर धवन ने भी बल्ले से बेहतरीन योगदान दिया था. वहीं अपने करियर का दूसरा वनडे खेलने वाले युवा बल्लेबाज श्रेयस अय्यर ने भी 88 रनों की पारी खेल अपनी प्रतिभा का परिचय दिया था.

दिनेश कार्तिक, मनीष पांडे को पहले मैच में ही बल्लेबाजी का मौका मिला था. यह दोनों भी अपने बल्ले की जंग को दूर करना चाहेंगे. गेंदबाजी में टीम इंडिया भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह के ऊपर निर्भर रहेगी, वहीं स्पिन में युजवेंद्र चहल के ऊपर जिम्मेदारी होगी. रोहित, कुलदीप यादव और वॉशिंगटन सुंदर में से किसे टीम में जगह देते हैं यह देखना होगा.

श्रीलंका

श्रीलंका के कप्तान थिसारा परेरा अपनी रणनीति पर दोबारा विचार करेंगे. उनके पास सीरीज जीतने का मौका भी है, जिसे वह किसी भी कीमत पर गंवाना नहीं चाहेंगे.

श्रीलंका को जीत की राह पर ले जाने के अलावा परेरा पर गेंदबाजी आक्रमण की बागडोर भी होगी. इसमें एंजेलो मैथ्यूज, सुरंगा लकमल और अकिला धनंजय उनका साथ देंगें.

लेकिन पेररा के लिए दिक्कत की बात यह है कि पहले मैच में गेंदबाजी के मुफीद विकेट मिलने पर तो उनके गेंदबाजों ने कहर ढा दिया था लेकिन दूसरे मैच में वह एकदम राह से भटक गए थे.

श्रीलंकाई बल्लेबाजी क्रम में उपुल थरंगा सबसे अनुभवी है जिनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद रहेगी. लाहिरू थिरिमाने, गुणतिलका और डिकवेला भी लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके हैं. पिछले मैच में रोहित के हाथों धुलाई के बाद श्रीलंकाई गेंदबाजों के पास मनोबल हासिल करना बड़ी चुनौती होगी.

टीम:

भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, दिनेश कार्तिक, मनीष पांडे, एम एस धोनी, हार्दिक पंड्या, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह.

श्रीलंका: तिसारा परेरा (कप्तान), उपुल थरंगा, धनुष्का गुणतिलका, असेला गुणरत्ने, सदीरा समरविक्रमा, निरोशन डिकवेला, एंजेलो मैथ्यूज, सुरंगा लकमल, नुवान प्रदीप, अकिला धनंजय, सचिन पाथिराना.

You May Also Like

English News