अभी-अभी: संघ ने लगाई योगी सरकार-BJP की क्लास, दी ये बड़ी नसीहतें

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के नौ महीने पूरे हो चुके हैं. मंगलवार को आरएसएस और बीजेपी के बीच लखनऊ में समन्वय बैठक हुई. योगी सरकार बनने के बाद संघ के साथ ये तीसरी बैठक थी. देर रात तक चली समन्वय बैठक में संघ ने साफ तौर पर कह दिया है सरकार और पार्टी में मतभेद सही नहीं हैं. अधिकारियों की मनमानी सरकार के लिए उचित नहीं है. बैठक का बड़ा मुद्दा पार्टी संगठन और सरकार में होने वाले बदलावों को लेकर रहा, जिसमें संघ की ओर से बीजेपी संगठन और योगी सरकार दोनों को कई सुझाव दिए गए हैं.अभी-अभी: संघ ने लगाई योगी सरकार-BJP की क्लास, दी ये बड़ी नसीहतें

संघ और बीजेपी के बीच समन्वय बैठक में फैसला हुआ कि जल्द ही पार्टी संगठन और सरकार में बड़े बदलाव होंगे. मकर संक्रांति के बाद पार्टी संगठन में युवा मोर्चा, महिला मोर्चा सहित खाली पड़े सभी पद भरे जाने का निर्देश दिया गया है.

सरकार-पार्टी में मतभेद पर चिंता

संघ ने समन्वय बैठक में पार्टी और सरकार के उन मतभेदों पर चिंता जाहिर की है. जो सार्वजिनिक हो रहे हैं. संघ ने गंभीरता से लेते हुए सख्त लहजे में कहा कि संगठन और सरकार में किसी तरह के मतभेद सार्वजनिक रूप से सामने नहीं आने चाहिए. इससे पार्टी और सरकार दोनों की किरकिरी होती है. बता दें कि पिछले दिनों सीएम योगी आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम केशव मौर्य के बीच मतभेद की चर्चाएं सामने आई थीं.

अधिकारियों की मनमानी पर लगाम

संघ ने बैठक में साफ कर दिया है कि अधिकारी अपनी मनमानी कर रहे हैं. सरकार ऐसे मनमानी करने वाले अधिकारियों को चिन्हित करे और लगाम लगाए. बैठक में कार्यकर्ताओं की जारी उपेक्षा पर भी संघ ने गहरी चिंता जाहिर की. पार्टी और सरकार से साफ तौर पर कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं की नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए. कार्यकर्ताओं की नाराजगी को हर हाल में पार्टी और सरकार दूर करे.

मंत्रिमंडल के विस्तार पर चर्चा 

बैठक में मंत्रिमंडल के संभावित फेरबदल पर भी चर्चा हुई. हालांकि किसी मंत्री के कामकाज को लेकर सीधी चर्चा नहीं हुई. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कई मंत्रियों के कामकाज से संतुष्ट नहीं हैं. इसके साथ ही उनके कैबिनेट में अभी 13 मंत्री पद खाली हैं ऐसे में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर चर्चा हुई जिसमें कुछ मंत्रियों के प्रभार भी बदले जा सकते हैं. लेकिन फिलहाल इसमें वक्त लगने की संभावना है.

निगम-बोर्ड के पदों पर नियुक्ति

बीजेपी संगठन ने सरकार में खाली कई पदों पर भी चर्चा की, निगमों के चेयरमन और बोर्ड के अध्यक्ष और कई संस्थानों के सदस्य और अध्यक्ष और महत्वपूर्ण पद इस सरकार में अब भी या तो खाली है या फिर अखिलेश सरकार के जमाने में रखे गए लोग ही काबिज है. संगठन ने जल्द से जल्द इन पदों पर लोगों को लाने की मांग की उम्मीद की जा रही है कि फरवरी आखिर या फिर मार्च के बाद इन पदों पर संगठन की तरफ से नामित लोग रखे जाएंगे.

निकाय चुनाव की हार पर समिक्षा

संघ ने अपनी तरफ से सभी कल्याणकारी योजनाओं को जल्द से जल्द आम लोगों तक पहुंचाने की बात कही है  निकाय चुनाव में पार्टी के बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पाने के लिए अपनी चिंता भी जताई.इस बैठक के बाद इतना तो साफ हो गया कि जल्द ही संगठन में बदलाव दिखेगा साथ ही अगले कुछ महीनों में मंत्रिमंडल में फेरबदल और विस्तार भी हो सकता है

बता दें कि मुख्यमंत्री आवास, 5 कालिदास मार्ग पर इस बैठक में मुख्यमंत्री के अलावा दोनों उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य और दिनेश शर्मा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र पांडे उत्तर प्रदेश के बीजेपी संगठन प्रभारी, सुनील बंसल, आरएसएस की तरफ से कृष्ण गोपाल मौजूद थे साथ ही लगभग आधा दर्जन लोग संगठन आरएसएस और सरकार की तरफ से बैठक में मौजूद थे.

You May Also Like

English News