अभी अभी: सीएम योगी ने शुरू की जापानी इंसेफ्लाइटिस से जंग, टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया

गहरे तक पैर जमा चुके इंसेफ्लाइटिस के खिलाफ योगी सरकार ने जंग की शुरुआत कर दी है। गुरुवार की सुबह कुशीनगर के मैनपुर दीनापट्टी गांव में मुख्यमंत्री ने अपने सामने छह बच्चों का टीकाकरण करवाते हुए जापानी इंसेफ्लाइटिस (जेई), एक्यूट इंसेफ्लाइटिस सिंड्रोम (एईएस) व कालाजार से बचाव के लिए प्रदेशस्तरीय टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया।अभी अभी: सीएम योगी ने शुरू की जापानी इंसेफ्लाइटिस से जंग, टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया यह भी पढ़े: कपिल मिश्रा ने केजरीवाल पर लगाया बड़ा आरोप, कहा की सत्येंद्र जैन की बलि दे सकते हैं

दूसरी ओर मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ पहली बार मुलायम सिंह यादव के गढ़ आजमगढ़ में थे। विलंब से पहुंचे योगी ने यहां अपने कई कार्यक्रमों में कटौती की मगर 2019 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टी कार्यकर्ताओं को स्पष्ट संदेश दिया कि अभी से कमर कस लें। उन्होंने यहां अफसरों को शिकायत निस्तारण की ओर बढ़ने का निर्देश दिया।

पूर्वाचल में आजमगढ़ को समाजवादियों का सुरक्षित गढ़ माना जाता है। मुलायम सिंह यादव के इस संसदीय क्षेत्र में अपने को मजबूत करने के लिए भाजपा ने अभी से कवायद शुरू कर दी है। नेहरू हाल में पार्टी पदाधिकारियों को योगी ने नसीहत दी कि अनुशासन में रहें, खुद पर नियंत्रण रखें। अब दायित्व बढ़ गया है। समस्याओं का समाधान कराएं, सरकार की योजनाएं जन-जन तक पहुंचाएं।

आजमगढ़, मऊ व बलिया के अफसरों के साथ मंडलीय समीक्षा बैठक में योगी ने कहा कि प्रदेश को अपराधमुक्त करना है। माफिया के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। जो कानून का पालन नहीं करेगा, उसे यूपी में रहने का हक नहीं है। तहसील दिवस को संपूर्ण समाधान दिवस की ओर ले चलें। इसके पूर्व निरीक्षण के लिए जिला महिला अस्पताल पहुंचे मुख्यमंत्री ने वहां की व्यवस्था पर संतोष व्यक्त किया।

इस दौरान उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, वन मंत्री दरोगा सिंह चौहान व सांसद नीलम सोनकर भी थीं। इसके पूर्व मुख्यमंत्री सुबह इंसेफ्लाइटिस रोधी टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत करने कुशीनगर स्थित मैनपुर दीनापट्टी पहुंचे। वहां एक जनसभा में उन्होंने कहा कि इंसेफ्लाइटिस से मुक्ति के लिए आमजन स्वच्छता अभियान से जुड़े। मलिन, मुसहर व अल्पसंख्यक बस्तियों में इस बीमारी का ज्यादा कहर है। प्रशासन को मुहिम के तहत यहां कार्य करना होगा।

10 जून तक चलने वाले इस अभियान के तहत 38 जिलों के 90 लाख बच्चों का टीकाकरण होना है, वैक्सीन व धन की कोई कमी नहीं है। योगी ने किसानों की समस्याओं के लिए पूर्ववर्ती सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि इस सरकार में किसानों के 22 हजार करोड़ बकाए गन्ना मूल्य का भुगतान किया गया है। प्रत्येक वर्ष दो बंद चीनी मिलों को चालू भी किया जाएगा। पडरौना के लिए 268 करोड़ की परियोजनाओं को लोकार्पण व शिलान्यास करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 70 लाख युवाओं को रोजगार देने, 25 नए मेडिकल कालेज खोलने व अस्पतालों को अपग्रेड करने की योजना पांच वर्ष में पूरी हो जाएगी। केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र ने कहा कि आज से शुरू हुआ अभियान समाज को स्वस्थ करने की दिशा में बड़ा कदम साबित होगा। इस मौके पर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ सिंह भी मौजूद थे।

 आजमगढ़ में सुरक्षा में हुई चूक : मुख्यमंत्री का काफिला महिला अस्पताल के पास से गुजर रहा था तभी कुछ मांग के साथ आशा सुभावती योगी के वाहन के आगे आ गईं। हकबकाए सुरक्षाकर्मियों ने सुभावती को हटाने की कोशिश की। हालांकि सीएम ने सुभावती को बुलाया, उनसे पत्रक भी लिया। वहीं आजमगढ़ शहर कोतवाली, बड़ादेव स्थित विद्यालय, नरौली मलिन बस्ती व बेलक्ष्सा स्थित गेहूं क्रय केंद्र को मुख्यमंत्री के आगमन के मद्देनजर तैयार रखा गया था। हालांकि विलंब से पहुंचे मुख्यमंत्री ने इन स्थानों का निरीक्षण नहीं किया।

मीडिया कर्मियों ने दिया धरना : मुख्यमंत्री के कार्यक्रम को कवर करने में बार-बार अड़चन डालने व सीएम से बात न करने देने के खिलाफ आजमगढ़ में मीडिया से जुड़े लोगों ने धरना भी दिया।वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोई भी समाज तभी उन्नति कर सकता है जबवह अपने अतीत, परंपराओं और संस्कृति से परिचित हो। इतिहास राष्ट्र की आत्मा होता है।

You May Also Like

English News