अभी अभी: GE के इमलैट बन सकते हैं UBER के नए CEO, इसलिए सब पर पड़ रहे हैं भारी..

ऐप बेस्ड टैक्सी एग्रीगेटर कंपनी उबर के नए सीईओ को तलाशने की कवायद खत्म सी हो गई है। उबर ने जीई इलेक्ट्रोनिक के सीईओ जेफरी इमलेट के अलावा पांच अन्य लोगों के नामों का चयन किया है। हालांकि सूत्रों के मुताबिक उबर ने जिन नामों का चयन किया है, उनमें से केवल इमलेट का नाम सबसे आगे चल रहा है। अभी अभी: GE के इमलैट बन सकते हैं UBER के नए CEO, इसलिए सब पर पड़ रहे हैं भारी..YouTube रेड और Play Music को मिला कर नई सर्विस की हो सकती है शुरुआत

इमलेट के अलावा दूसरा बड़ा नाम एचपी की सीईओ मेग विटमैन का चल रहा है। हालांकि विटमैन ने खुद ही कह दिया है कि वो इस रेस में शामिल नहीं है। गुरुवार को हुई बोर्ड की मीटिंग में इस बात पर चर्चा की गई। सूत्रों के मुताबिक, इस मीटिंग में जिन नामों की चर्चा की गई उनमें बोर्ड के सभी सदस्यों में एक राय नहीं बन पाई।  61 साल के इमलैट अगले महीने जीई के सीईओ पद से हटने वाले हैं। वो इस पद पर 2001 से हैं।  

सीईओ ने दिया था इस्तीफा
मोबाइल ऐप ट्रेवलिंग कंपनी उबर के सीईओ और को-फाउंडर ट्रैविस कैलनिक ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। कंपनी के अंदर यौन उत्पीड़न के मामलों की अनदेखी करना ट्रैविस को भारी पड़ गया था। कंपनी के शेयर होल्डर्स ने ट्रैविस के इस रवयै का काफी विरोध किया था। 

यूएस मीडिया में चल रही रिपोर्ट के अनुसार, उबर के बड़े निवेशकों ने ट्रैविस पर इस्तीफा देने का दबाव बनाया था।  हाल ही में उनकी मां का निधन हुआ जिसकी वजह से वो छुट्टी पर थे। इस्तीफे के बाद भी वो बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में रहेंगे और वोटिंग के ज्यादातर शेयर उनके पास ही होंगे। वेंचर कैपिटल फर्म बेंचमार्क ने कैलनिक का जबर्दस्त विरोध किया। 

2009 में शुरू की थी ऐप आधारित टैक्सी सेवा
ट्रैविस ने 2009 में सबसे पहले ऐप आधारित टैक्सी सेवा शुरू की थी। देखते ही देखते अमेरिका के अलावा भारत सहित कई देशों में उबर की सर्विस काफी प्रसिद्ध हो गई है। भारत में इसे ओला से सीधी टक्कर मिल रही है। 

You May Also Like

English News