अभी अभी: GST के लिए 30 जून को संसद के राष्ट्रपति, मेगा इवेंट को करेंगे लांच…

केंद्र सरकार गुड्स एंड सर्विस टैक्स को 1 जुलाई से लागू करने के लिए कमर कस चुकी है। इसके मेगा लांच के लिए सरकार पूरे देश में जश्न का माहौल बनाना चाहती है, जैसा कि 1947 में आजादी के वक्त था। इसके लिए सरकार संसद के सेंट्रल हॉल में 30 जून और 1 जुलाई की मध्यरात्रि एक भव्य कार्यक्रम करने की तैयारी की जा रही है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि राष्ट्रपति इसको संसद के सेंट्रल हॉल में इसको लांच किया जाएगाअभी अभी:  GST के लिए 30 जून को संसद के राष्ट्रपति, मेगा इवेंट को करेंगे लांच...

PAK ने रोका जमीनी रास्ता, तो भारत ने निकाला हवाई मार्ग, एयर कार्गो कॉरिडोर के जरिए पहुंचा पहला विमान

वित्त मंत्री ने कहा कि इस अवसर पर उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, सभी राज्यों के मुख्यमंत्री और विपक्ष के नेता मौजूद रहेंगे। 

सरकार इस आयोजन के जरिए ये बताना चाह रही है कि आजादी के बाद यह सबसे बड़ा टैक्स रिफॉर्म है, जिससे लोगों की जिंदगी पर काफी सकरात्मक असर पड़ने वाला है।

सूत्रों के मुताबिक, पहले इस तरह का आयोजन विज्ञान भवन में करने का प्लान था, लेकिन सरकार को लगता है कि वो इसे संसद के सेंट्रल हॉल से लांच करे जिसमें देश के हर राज्य के प्रमुख नेता भी शामिल हो सकेंगे। इसके साथ ही दुनिया में इसे संसद से लांच करने पर एक अलग तरह का असर होगा। 

केवल जम्मू-कश्मीर में नहीं पास हुआ है जीएसटी
जीएसटी काउंसिल की रविवार को हुई बैठक में यह बात सामने आई कि केवल जम्मू-कश्मीर को छोड़कर के सभी राज्यों ने जीएसटी कानून को पास कर दिया है। जम्मू-कश्मीर में विपक्षी दल आरोप लगा रहे हैं कि इससे राज्य की ऑटोनॉमी खत्म हो जाएगी।

You May Also Like

English News