अभी-अभी: NCP अध्यक्ष शरद पवार ने मोदी की बुलेट ट्रेन के खिलाफ उठाए ये सवाल

महाराष्ट्र में बुलेट ट्रेन की एंट्री को लेकर शिवसेना और एमएनएस के बाद अब एनसीपी ने भी मोदी सरकार को घेरा है. एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट पर सवाल उठाए हैं.अभी-अभी: NCP अध्यक्ष शरद पवार ने मोदी की बुलेट ट्रेन के खिलाफ उठाए ये सवालराष्ट्रपति कोविंद के गांव परौंख में बच्चों के लिए शुरू हुई स्मार्ट क्लास, दिए गए ’स्पेशल बैग’

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी चीफ पवार ने कहा है कि बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट अव्यवहारिक है. उन्होंने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र की तुलना में गुजरात को इस प्रोजेक्ट से ज्यादा लाभ मिलेगा.

शरद पवार ने कहा, ‘महाराष्ट्र को बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के तहत मजह 4 स्टेशन मिल रहे हैं, जबकि ज्यादातर स्टेशन गुजरात की सीमा में आ रह हैं. जबकि इसके लिए महाराष्ट्र गुजरात के बराबर वित्त सहयोग दे रहा है’.

अहमदाबाद-मुंबई रूट पर भी उठाए सवाल

सिर्फ महाराष्ट्र के फायदे पर ही नहीं, बल्कि शरद पवार ने बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के रूट पर भी सवाल उठाए हैं. उन्होंने बुलेट ट्रेन को महाराष्ट्र से गुजरात को जोड़ने के फैसले की भी आलोचना की है. शरद पवार ने कहा, ‘मेरे ख्याल से बुलेट ट्रेन की जरूरत मुंबई-दिल्ली, दिल्ली-कोलकाता और मुंबई-चेन्नई के बीच थी. मुंबई-अहमदाबाद के बीच बुलेट ट्रेन चलाना अव्यवहारिक है’.

राज ठाकरे ने दी थी धमकी 

सितंबर के अंत में मुंबई के एलफिंस्टन स्टेशन के पास ओवरब्रिज पर हुए हादसे के बाद महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे ने भी बुलेट ट्रेन को लेकर सख्त टिप्पणी की थी. ठाकरे ने कहा था जब तक मुंबई रेलवे के बुनियादी ढांचे में सुधार नहीं होता, तब तक मुंबई में बुलेट ट्रेन का काम शुरू नहीं होने देंगे.

शिवसेना ने भी किया था विरोध

इससे पहले बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने बुलेट ट्रेन ‘लूट’ और ‘ठगी’ का प्रोजेक्ट करार दिया था. शिवसेना ने कहा था कि बुलेट ट्रेन बनाने वाली जापानी कंपनी कील से लेकर ट्रैक और तकनीक सब कुछ अपने देश से लाने वाली है. शिवसेना का मानना है कि बुलेट ट्रेन के लिए जमीन और पैसा महाराष्ट्र-गुजरात का खर्च हो रहा है और मुनाफा जापान को मिलेगा.

You May Also Like

English News