अभी अभी : SBI ने लॉन्च की MOPAD सेवा, जानिए ग्राहकों को होगा इससे क्या फायदा

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने कस्टमर फ्रैंडली मल्टी ऑप्शन पेमेंट एक्सेपटेंस डिवाइस (मोपेड) सेवा को बुधवार लॉन्च कर दिया है। इस नई व्यवस्था के तहत ग्राहक कार्ड्स, भारत क्यूआर, यूपीआई और प्वाइंट ऑफ सेल (पीओएस) टर्मिनल पर एसबीआई बड्डी (ई-वॉलेट) के जरिए भुगतान कर सकते हैं। साथ ही इसके जरिए व्यापारी कार्ड और क्यूआर कोड माध्यम के जरिए ट्रांजैक्शन प्रोसेस कर सकते हैं।

एसबीआई के चीफ जनरल मैनैजर (आमरावती वर्किल) मणी पलवेसन ने लकी शॉपिंग मॉल में लॉन्चिंग के दौरान कहा, “इस पहल का उद्देश्य ग्राहकों को डिजिटल सहुलियत और मर्चेंट्स को कारोबार में सुगमता प्रदान करना है। इससे बैंक के उद्देश्य ‘कैश की आदत बदलो’ को भी समर्थन मिलेगा।”

कैसे करेगा यह काम-

ट्रांजैक्शन के बाद ग्राहक को भुगतान के प्रमाण के तौर पर चार्ज स्लिप मिलेगी। हालांकि, यह भारत क्यूआर, यूपीआई, एसबीआई बड्डी ट्रांजैक्शन के लिए उपलब्ध नहीं है। मर्चेंट्स को सिंगल MIS दिया जाएगा जो उन्हें सभी तरह के डिजिटल ट्रांजैक्शन के जरिए होने वाले कैश फ्लो पर नियंत्रण रखने में मदद करेगा। उम्मीद की जा रही है कि यह मल्टी पर्पस (बहु उद्देश्य) पहल डिजिटल इकोसिस्टम को बढ़ावा देगा और इसके जरिए बैंक अर्थव्यवस्था को कैश मुक्त समाज की ओर ले जाने में मदद करेगा।

एसबीआई के अधिकारी ने बताया कि एसबीआई ने 6,23 लाख पीओएस टर्मिनल्स इंस्टॉल कर दिये हैं। बैंक इनमें चरणबद्ध तरीके से मोपेड सुविधा सभी पीओएस टर्मिनल पर लॉन्च करेगा। साथ ही स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) डिजिटल प्लेटफॉर्म योनो (यू ओनली नीड वन) के ग्राहकों की संख्या आने वाले दो वर्षों में बढ़ाकर 25 करोड़ करने की योजना बना रहा है।

You May Also Like

English News