अमित शाह ने कहा: मुस्लिम महिलाओं के अधिकार छीन लेता है तीन तलाक

बीजेपी प्रमुख अमित शाह ने शनिवार को कहा कि भारत में हर महिला को जाति, नस्ल और धर्म का विचार किए बगैर संवैधानिक अधिकारों का इस्तेमाल करना चाहिए. तीन तलाक अक्सर ही मुस्लिम महिलाओं के अधिकार छीन लेता है. उन्होंने कहा, ‘हम तलाक के खिलाफ हैं और इस मुद्दे पर पार्टी के रूख से सुप्रीम कोर्ट को पहले ही अवगत करा दिया गया है. ये भी पढ़े : जेटली ने पाकिस्तानी मंत्री के साथ किया मंच में साझा, दिखे तल्ख तेवर

शाह ने दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आजादी के बाद देश में सबसे लोकप्रिय नेताओं में से एक बनकर उभरे हैं. उन्होंने कहा कि पार्टी ने महाराष्ट्र, हरियाणा, उत्तराखंड, जम्मू कश्मीर, असम, गोवा और मणिपुर में शानदार जीत दर्ज की है. उन्होंने कहा कि बीजेपी की चुनावी सफलता मोदी की बढ़ती लोकप्रियता का संकेत देती है और आने वाले बरसों में यह जारी रहेगी.

उन्होंने कहा कि बीजेपी नीत राजग सरकार के खिलाफ भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं है जबकि कांग्रेस नीत संप्रग शासन में 12 लाख करोड़ रूपये के भ्रष्टाचार के मामले सामने आए. मोदी के नए विकास मॉडल की सराहना करते हुए शाह ने कहा कि सरकार देश में विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं. उन्होंने कहा, ‘104 उपग्रहों का प्रक्षेपण करना अंतरिक्ष जगत में बीजेपी नीत सरकार की एक ऐतिहासिक सफलता है.’

जम्मू कश्मीर में हिंसा पर शाह ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि हिंसा खत्म होने तक कोई बातचीत नहीं होगी. उन्होंने यह भी कहा कि मोदी सरकार देश में बेरोजगारी को हल करने के लिए एक नई अवधारणा के साथ आई है.

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस और वाम दलों ने बेरोजगारी घटाने के लिए एकमात्र विकल्प के तौर पर सरकारी क्षेत्र में नौकरियां देने की एक परिपाटी स्थापित की. हालांकि, मोदी सरकार करोड़ों युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए स्वरोजगार पर जोर दे रही है.

You May Also Like

English News