अमेरिका: कंसास के रेस्‍तरां में भारतीय छात्र की गोली मारकर हत्या

अमेरिका में एक भारतीय छात्र की गोली मारकर हत्या करने का मामला सामने आया है. अमेरिका के कंसास शहर में डकैतों ने एक भारतीय छात्र की गोली मारकर हत्या कर दी. यह घटना अमेरिकी समय के मुताबिक शुक्रवार 6 जुलाई शाम की है. मारे गए छात्र की पहचान तेलंगाना शरत कापू के रूप में हुई है. जिसके बाद कंसास शहर के प्रशासन ने अब हत्यारे का सुराग देने वाले के लिए 10 हजार डॉलर के इनाम की घोषणा की है. अमेरिका में एक भारतीय छात्र की गोली मारकर हत्या करने का मामला सामने आया है. अमेरिका के कंसास शहर में डकैतों ने एक भारतीय छात्र की गोली मारकर हत्या कर दी. यह घटना अमेरिकी समय के मुताबिक शुक्रवार 6 जुलाई शाम की है. मारे गए छात्र की पहचान तेलंगाना शरत कापू के रूप में हुई है. जिसके बाद कंसास शहर के प्रशासन ने अब हत्यारे का सुराग देने वाले के लिए 10 हजार डॉलर के इनाम की घोषणा की है. शरत तेलंगाना के वारंगल जिले के रहने वाले थे और अमेरिका में पढ़ाई कर रहे थे. 26 साल का शरथ कोप्पू अमेरिका के मिसौरी विश्वविद्यालय में साॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में मास्टर्स डिग्री की पढ़ाई कर रहा था. घटना के वक्त ये शख्स कंसास शहर के जे फिश एंड चिकन मार्केट के पास मौजूद था. तभी कुछ अज्ञात हमलावरों ने उसे गोली मार दी और फरार हो गए. यहाँ पर पुलिस अधिकारी ने बताया कि घायल शख्स को तुरंत प्राथमिक उपचार दिया गया, उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है लेकिन अभी तक इस मामले में किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हुई है. चश्मदीदों के मुताबिक उन्होंने रेस्टोरेंट से 5 गोलियां चलने की आवाज सुनी थी. पुलिस के मुताबिक जब उनकी टीम घटनास्थल पहुंची हत्यारे फरार हो चुके थे.

शरत तेलंगाना के वारंगल जिले के रहने वाले थे और अमेरिका में पढ़ाई कर रहे थे. 26 साल का शरथ कोप्पू अमेरिका के मिसौरी विश्वविद्यालय में साॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में मास्टर्स डिग्री की पढ़ाई कर रहा था. घटना के वक्त ये शख्स कंसास शहर के जे फिश एंड चिकन मार्केट के पास मौजूद था. तभी कुछ अज्ञात हमलावरों ने उसे गोली मार दी और फरार हो गए.

यहाँ पर पुलिस अधिकारी ने बताया कि घायल शख्स को तुरंत प्राथमिक उपचार दिया गया, उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है लेकिन अभी तक इस मामले में किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हुई है. चश्मदीदों के मुताबिक उन्होंने रेस्टोरेंट से 5 गोलियां चलने की आवाज सुनी थी. पुलिस के मुताबिक जब उनकी टीम घटनास्थल पहुंची हत्यारे फरार हो चुके थे.

You May Also Like

English News