अमेरिकी कंपनियों को पसंद नहीं आया मेक इन US, 9 महीने में हुआ फेल…

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि चूंकि वह मेक इन अमेरिका पर जोर दे रहे हैं इसलिए कुछ मुख्यकार्यकारी सीईओ शर्मिंदगी के चलते उनकी सलाहकार परिषदों से हट गए हैं. शेर्लोट्स्विले में की गई हिंसा पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की अस्पष्ट प्रतिक्रिया से नाराज मुख्य कार्यकारी अधिकारियों की ओर से इस्तीफे दिए हैं जिसके बाद ट्रंप ने अपनी दो व्यापार सलाहकार परिषदें निरस्त कर दीं.अमेरिकी कंपनियों को पसंद नहीं आया मेक इन US, 9 महीने में हुआ फेल...टेक्नॉलजी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बने साल के सबसे बड़े दानवीर, 30 हजार करोड़ रुपये किए डोनेट

उल्लेखनीय है कि 11 सीईओ ने ट्रंप की दो परामर्श परिषदों से इस्तीफा दे दिया है. इनमें मर्क के कैनेथ फ्रेजिएर, इंटेल के ब्रायन क्रुजानिक, अंडर आर्मर के केविन प्लेंक व अमेरिकन फेडरेशन अफ लेबर एंड कांग्रेस आफ इंडस्ट्रीयल आर्गेनाइजेशंस एएफएल सीआईओ के अध्यक्ष रिचर्ड ट्रूमका शामिल हैं.

मेक इन अमेरिका के लिए अहम थी काउंसिल

ट्रंप ने मैनुफैक्चरिंग एडवाइजरी काउंसिल की स्थापना जनवरी में शपथ ग्रहण के बाद की थी. उन्होंने 16 सदस्यीय स्ट्रैटेजिक एंड पॉलिसी फोरम की स्थापना दिसंबर में की थी. तब ट्रंप निर्वाचित राष्ट्रपति थे. ट्रंप ने एक ट्वीट में कहा, मैनुफैक्चरिंग काउंसिल और स्ट्रैटेजी एंड पॉलिसी फोरम के कारोबारी लोगों पर दबाव डालने के बजाय, मैं दोनों को ही खत्म कर रहा हूं. आप सबका शुक्रिया. अब तक सलाहकार परिषदों के 11 सीईओ इस्तीफा दे चुके हैं. इनमें से अधिकतर अधिकारियों ने शेर्लोट्स्विले में सप्ताहांत पर हुई हिंसा पर राष्ट्रपति की ढुलमुल प्रतिक्रिया पर हो रही आलोचना के चलते इस्तीफा दिया है.

इनमें से ज्यादातर सीईओ ने अपने इस्तीफे चार्लोट्सविले में सप्ताहांत हुई हिंसक घटना को लेकर राष्ट्रपति द्वारा कड़ी प्रतिक्रिया नहीं जताए जाने के विरोध में दिए हैं. उनकी परिषदों से सीईओ के इस्तीफों के बारे में पूछे जाने पर ट्रंप ने कहा, क्योंकि वे अपने उस काम का गंभीरता से नहीं ले रहे हैं जो कि इस देश से जुड़ा है.

ट्रंप ने अपने ट्रंप्स टावर में संवाददाताओं से कहा, अगर आप विचार करें कि आप जिन कुछ लोगों के बारे में बात कर रहे हैं वे देश के बाहर से हैं. उनके ज्यादातर उत्पाद बाहर बनते हैं. उदाहरण के रूप में आप मर्क को लें.. देखें कि उसके उत्पाद कहां बनते हैं. वे हमारे देश से बाहर बनते हैं.

ट्रंप ने कहा, अब मैं आपको बताता हूं कुछ लोग जो छोड़कर जा रहे हैं वे ऐसा शर्मिंदगी के कारण कर रहे हैं क्योंकि वे अपने उत्पाद देश से बाहर बनाते हैं. मैं उन्हें, इसमें वे सज्जन भी शामिल हैं जिनका आपने जिक्र किया, ज्ञान दे रहा हूं कि रोजगार को वापस देश में लाएं. ट्रंप ने सोशल मीडिया पर दावा किया कि परिषदों में खाली हुए पदों पर नियुक्ति के लिए अनेक सीईओ इंतजार कर रहे हैं.

You May Also Like

English News