अमेरिकी शख्स ने कबूला अपना गुनाह, मिली 50 साल की सजा

लोगों के शरीर में HIV वायरस फैलाने के मकसद से खुद को संक्रमित करने के मामले में अमेरिकी शख्स स्टीफन कोच ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. अमेरिका की एक अदालत ने बीते सोमवार को इस मामले में कोच को 50 साल की जेल सजा सुनाई. इसके अलावा यौन अपराधी के रुप में रजिस्टर्ड करने का भी आदेश दिया है.     लोगों के शरीर में HIV वायरस फैलाने के मकसद से खुद को संक्रमित करने के मामले में अमेरिकी शख्स स्टीफन कोच ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. अमेरिका की एक अदालत ने बीते सोमवार को इस मामले में कोच को 50 साल की जेल सजा सुनाई. इसके अलावा यौन अपराधी के रुप में रजिस्टर्ड करने का भी आदेश दिया है.        यह था आरोप  अमेरिका के नॉर्थवेस्ट अरकंसास का रहने वाले 25 वर्षीय स्टीफन कोच पर जानबूझकर अपने शरीर में HIV वायरस ( जिससे एड्स होता है) फैलाने का आरोप था. स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कोच ने अदालत में खुद यह मान लिया है कि लोगों को नुकसान पहुंचाने के लिए उसने ऐसा किया.वहीं सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष की ओर से बताया गया कि कोच के कंम्प्यूटर को देखने के बाद यह भी संकेत मिले हैं कि उसने जानबूझकर अपने शरीर में HIV वायरस को फैलाकर वायरस स्टेटस के बारे में लोगों को गलत जानकारी दी.    कोर्ट में क्या कहा कोच ने    कोच ने सर्किट जज रॉबिन ग्रीन से कहा कि उन्होंने अन्य लोगों को नुकसान पहुंचाने के लिए खुद को वायरस से संक्रमित किया. इस बयान के बाद जज  ग्रीन ने कोच को 50 साल की जेल की सजा सुनाई है और उसे यौन अपराधी के रुप में रजिस्टर्ड करने का आदेश दिया है.  तीन हफ्ते पहले ऐसा ही एक और मामला सामने आया था. यह मामला  अमेरिका के मिसिसिपी इलाके के रहने वाले टायरोन रॉस का था. बीते 29 मई को रॉस को अस्पताल में उनके खिलाफ प्राप्त शिकायत के बाद गिरफ्तार किया गया था.रॉस पर अपने पार्टनर समेत अन्य कई लोगों को एचआईवी वायरस से संक्रमित करने का आरोप है.

 अमेरिका के नॉर्थवेस्ट अरकंसास का रहने वाले 25 वर्षीय स्टीफन कोच पर जानबूझकर अपने शरीर में HIV वायरस ( जिससे एड्स होता है) फैलाने का आरोप था. स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कोच ने अदालत में खुद यह मान लिया है कि लोगों को नुकसान पहुंचाने के लिए उसने ऐसा किया.वहीं सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष की ओर से बताया गया कि कोच के कंम्प्यूटर को देखने के बाद यह भी संकेत मिले हैं कि उसने जानबूझकर अपने शरीर में HIV वायरस को फैलाकर वायरस स्टेटस के बारे में लोगों को गलत जानकारी दी.  

कोर्ट में क्या कहा कोच ने  

कोच ने सर्किट जज रॉबिन ग्रीन से कहा कि उन्होंने अन्य लोगों को नुकसान पहुंचाने के लिए खुद को वायरस से संक्रमित किया. इस बयान के बाद जज  ग्रीन ने कोच को 50 साल की जेल की सजा सुनाई है और उसे यौन अपराधी के रुप में रजिस्टर्ड करने का आदेश दिया है.  तीन हफ्ते पहले ऐसा ही एक और मामला सामने आया था. यह मामला  अमेरिका के मिसिसिपी इलाके के रहने वाले टायरोन रॉस का था. बीते 29 मई को रॉस को अस्पताल में उनके खिलाफ प्राप्त शिकायत के बाद गिरफ्तार किया गया था.रॉस पर अपने पार्टनर समेत अन्य कई लोगों को एचआईवी वायरस से संक्रमित करने का आरोप है.  

You May Also Like

English News