अयोध्या में बोले अखिलेश मायावती और मोदी मिले हुए हैं, वोट देने से पहले रहें सावधान

अयोध्या: यूपी विधानसभा चुनाव के पांचवे चरण के लिए चुनाव प्रचार अपने चरम पर है। शुक्रवार की सुबह अयोध्या पहुंचेअखिलेश यादव ने जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी पर हमला किया। उन्होंने कहा कि 2019 में जनता उन्हें सत्ता में आने नहीं देगी। यूपी के चुनाव में ही उनका फैसला हो जाएगा।


नोटबंदी को लेकर बीजेपी पर वार करते हुए उन्होंने कहा नोट काला सफेद नहीं होता है लेनदेन काला होता है। नोटबंदी पर ऐतिहासिक फैसला तो ले आई सरकार लेकिन जो लोग इस दौरान मरे हैं क्या उनको बीजेपी ने पलटकर भी देखा है। बस लोगों को गुमराह करके उन्हें धोखा दिया है। उन्होंने आगे कहा कि सरकार बस इधर-उधर की बात करती है लेकिन काम की बात नहीं करती है।

पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा कि मोदी जी तो थाने की बात में उलझे रहते हैं, लेकिन उन्हें ये नहीं पता कि यूपी में पुलिस फोन नंबर से सेवा देती है। समाजवादी पार्टी के काम पर लोगों को भरोसा है और वे आगे भी भरोसा करते रहेंगे। गांव और शहर में कोई भी परेशानी होती है तो सपा सरकार हर छोटे बड़े काम में आगे रहती है।
अखिलेश यादव ने बताया कि बीजेपी वाले तो रमजान और दिवाली पर भेद करने लगते हैं। हमने तो दोनों त्योहारों में बिजली दी अगर कोई कटिया डालता है तो हम कैसे पता कर सकते हैं कि किस बिरादरी ने कटिया डाली। फिर वो हम पर भेदभाव का इल्जाम कैसे लगा सकते हैं। हम रमजान दिवाली की बात नहीं कर सकते हैं। अखिलेश ने ये भी कहा कि हो सकता है के प्रधानमंत्री को ही किसी ने गलत सूचना दे दी हो।
अखिलेश ने कहा हम श्मशान और कब्रिस्तान की नहीं बल्कि स्मार्टफोन और लैपटॉप की बात करते हैं। उन्होंने प्रत्याशी पवन पांडेय के लिए वोट भी मांगे। सीएम ने मायावती पर भी हमला बोलाए बुआजी से सावधान रहना ये बीजेपी से मिली हैं और तीन बार रक्षाबंधन मना चुकी हैं। उन्होंने कहा आजकल बुआजी बड़े लंबे-लंबे भाषण देने लगी हैं और विकास की बात भी करती हैं।

इन्होंने अपना पूरा वोट बीजेपी को ट्रांसफर कर दिया था। मुख्यमंत्री ने कहा कोई गरीब बीमार हो जाए तो हमारा विधायक भी मदद करेगा साथ ही हमें चि_ी लिखकर भेज देना हम जरूर मदद करेंगे। अखलिेश ने कहा अयोध्या फैजाबाद में घाट नेताजी ने बनवाए थे और हमने भजन स्थल बनवाए। हम फैजाबाद अयोध्या को अच्छा शहर बनाना चाहते हैं लेकिन बीजेपी के लोग इस शहर के नाम पर राजनीति करते हैं। अखिलेश ने कहा हम कसाब पर नहीं जाना चाहते।

You May Also Like

English News