अयोध्या विवाद को लेकर बयानबाजी पर उलेमाओं को चेतावनी…

अयोध्या से मस्जिद की जगह बदलने सहित उलमा के अन्य बयानों पर मोमिन अंसार सभा ने नाराजगी जाहिर की है। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष मोहम्मद अकरम अंसारी ने सियासी बयानबाजी से बाज न आने वाले उलमा का सामाजिक बहिष्कार करने की चेतावनी भी दी है। अयोध्या विवाद को लेकर बयानबाजी पर उलेमाओं को चेतावनी...रविवार को गांधी भवन में प्रदेश भर से आए संगठन के पदाधिकारियों की बैठक में बुनकरों, दस्तकारों की समस्याओं के साथ ही अयोध्या विवाद पर बयानबाजी, तीन तलाक जैसे मुददों पर खुलकर चर्चा हुई।

बैठक के बाद अध्यक्ष मोहम्मद अकरम अंसारी ने पत्रकारों से कहा कि तीन तलाक पर कानून बनाकर मुसलमानों की सामाजिक व्यवस्था को तोड़ने की कोशिश हो रही है। राजनीतिक व आर्थिक फायदे के लिए अयोध्या मामले पर कुछ लोग मस्जिद की जमीन छोड़ने को लेकर अनाप शनाप बयान दे रहे हैं।

उन्होंने कहा, देश व प्रदेश में हर त्योहार सभी लोग अमन के साथ मनाते हैं। नमाज का वक्त बदलने की बात कर अशांति के अंदेशे को सार्वजनिक करने की कोशिश की गई है। अगर उलमा सियासी बयानबाजी से बाज नहीं आए तो उनका सामाजिक बहिष्कार किया जाएगा।

बुनकरों व हस्त शिल्पियों पर जीएसटी लगाना नाइंसाफी

अकरम अंसारी ने कहा, नोटबंदी के बाद जीएसटी से बुनकर, दस्तकार, लघु व कुटीर उद्योग पूरी तरह तबाह हो गए हैं। दस्तकारी को जीएसटी के दायरे में लाना नाइंसाफी है। छोटे कारोबारियों का बैंकों में जमा पैसा कॉरपोरेट घरानों को दिया जा रहा है। उन्होंने बुनकरों व दस्तकारों को जीएसटी से मुक्त रखने और गरीब बुनकरों को पहले की तरह बिजली मुफ्त देने की मांग की।

You May Also Like

English News