अरे यह क्या ऑस्कर में गलत फिल्म को अवार्ड देने की हुई घोषणा! पढि़ए आपभी

लॉस एंजेलिस : ऑस्कर 2017 इस बार कुछ खास रहा। कुछ सितारों के लिए यह खुशियां लेकर आया तो कुछ के हाथ मायूसी लगी। इन सबके बीच शो के दौरान एक घटना ऐसी भी रही जो शायद हमेशा याद रहेगी।



ऐसा कम ही होता है कि इतने बड़े मंच से किसी तरह की कोई गलती देखने को मिले। लेकिन इस बार कुछ ऐसा ही हुआ। दरअसल प्रेजेंटर वारेन बिट्टी ने बेस्ट फिल्म कैटेगरी के विजेता के नाम की घोषणा करते हुए गलत नाम ले लिया। बाद में इस गलती को सुधारा।

घटना के मुताबिक बिट्टी ने पहले ला ला लैंड का नाम घोषित कर दिया था। इस कैटेगरी में मूनलाइट को भी नॉमिनेट किया गया था। बिट्टी ने बाद मे गलती सुधारते हुए बेस्ट फिल्म कैटेगरी के लिए मूनलाइट के नाम की घोषणा की। बिट्टी का कहना था कि उन्हें गलत लिफाफा दे दिया गया था। इस कारण यह गलती हुई। मंच से ला ला लैंड के प्रोड्यूसर जॉर्डन होर्विट्ज ने खुद वो लिफाफा सभी को मंच से दिखाया जिसमें बेस्ट फिल्म कैटेगरी के लिए मूनलाइट का नाम लिखा गया था।
पहले मुस्लिम एक्टर ने जीता ऑस्कर अवार्ड
माहेर्शला अली को इस बार ऑस्कर 2017 में बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का अवॉर्ड मिला है। अली को यह अवॉर्ड फिल्म मूनलाइट के लिए दिया गया है। यह पहला मौका है जब किसी मुस्लिम एक्टर को यह अवॉर्ड दिया गया है। इस कैटेगरी में भारतीय मूल के एक्टर देव पटेल को भी नॉमिनेशन मिला था। अली को पहली बार नॉमिनेशन में स्थान मिला था। अली ने फिल्म में मियामी के एक ड्रग डीलर की भूमिका निभाई थी। अली के लिए यह साल शानदार रहा। उन्होंने हिडन फिगर्स में भी एक रोल किया था। इस फिल्म को भी ऑस्कर 2017 में नॉमिनेशन मिला था। अली ने अवॉर्ड जीतने का श्रेय अपने टीचर्स, डायरेक्टर बैरी जेनकिंस, अपनी पत्नी को दिया। अली ने स्क्रीन एक्टर्स गिल्ड अवॉड्र्स में भी पुरस्कार जीता था। साथ ही अली को द गोल्डन ग्लोब्स अवॉड्र्स में भी नॉमिनेशन मिला था।

You May Also Like

English News