अर्जेंटीना के कोच दावा- मेसी का यह अंतिम वर्ल्ड कप नहीं है

अर्जेंटीना की राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के कोच जॉर्ज साम्पोली का कहना है कि रूस में खेला जा रहा फीफा वर्ल्ड कप अर्जेंटीनी सुपरस्टार लियोनेल मेसी का अंतिम वर्ल्ड कप नहीं है. पांच बार फीफा द्वारा ‘बालोन डी ओर’ पुरस्कार से नवाजे जा चुके मेसी 30 साल के हो गए हैं.अर्जेंटीना की राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के कोच जॉर्ज साम्पोली का कहना है कि रूस में खेला जा रहा फीफा वर्ल्ड कप अर्जेंटीनी सुपरस्टार लियोनेल मेसी का अंतिम वर्ल्ड कप नहीं है. पांच बार फीफा द्वारा 'बालोन डी ओर' पुरस्कार से नवाजे जा चुके मेसी 30 साल के हो गए हैं.  साम्पोली ने आइसलैंड के साथ होने वाले मुकाबले से पहले कहा, 'मैं नहीं मानता कि यह मेसी का अंतिम वर्ल्ड कप है. वैसे यह फैसला मेसी को ही लेना है कि उनके करियर का समापन कप होगा लेकिन मेरी नजर में यह निश्चित तौर पर उनका अंतिम वर्ल्ड कप नहीं है.'  2014 में ब्राजील में आयोजित वर्ल्ड कप के 20वें संस्करण के फाइनल में जर्मनी के हाथों हारने वाली अर्जेंटीनी टीम मेसी के नेतृत्व में 2018 वर्ल्ड कप के अपने अभियान का आगाज आइसलैंड के साथ खेलते हुए करेगी.  FIFA: आत्मघाती गोल से ईरान को मिली विश्व कप की दूसरी जीत  आइसलैंड की टीम पहली बार वर्ल्ड कप में हिस्सा ले रही है. फुटबॉल जगत के महान खिलाड़ियों में शुमार लियोनेल मेसी ने अपने करियर में सभी ट्रॉफी जीती है, लेकिन वह अब तक अपने देश को फीफा वर्ल्ड कप का खिताब दिलाने में कामयाब नहीं हो पाए हैं.  वर्ल्ड कप में दुनियाभर के प्रशंसकों की निगाहें इस पर टिकी होंगी कि क्या फुटबॉल का यह जादूगर अर्जेंटीना को तीसरी बार इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट का खिताब दिलाने में कामयाब हो पाएगा? वर्ल्ड कप में अर्जेंटीना का गौरवशाली इतिहास रहा है.अर्जेंटीना की राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के कोच जॉर्ज साम्पोली का कहना है कि रूस में खेला जा रहा फीफा वर्ल्ड कप अर्जेंटीनी सुपरस्टार लियोनेल मेसी का अंतिम वर्ल्ड कप नहीं है. पांच बार फीफा द्वारा 'बालोन डी ओर' पुरस्कार से नवाजे जा चुके मेसी 30 साल के हो गए हैं.  साम्पोली ने आइसलैंड के साथ होने वाले मुकाबले से पहले कहा, 'मैं नहीं मानता कि यह मेसी का अंतिम वर्ल्ड कप है. वैसे यह फैसला मेसी को ही लेना है कि उनके करियर का समापन कप होगा लेकिन मेरी नजर में यह निश्चित तौर पर उनका अंतिम वर्ल्ड कप नहीं है.'  2014 में ब्राजील में आयोजित वर्ल्ड कप के 20वें संस्करण के फाइनल में जर्मनी के हाथों हारने वाली अर्जेंटीनी टीम मेसी के नेतृत्व में 2018 वर्ल्ड कप के अपने अभियान का आगाज आइसलैंड के साथ खेलते हुए करेगी.  FIFA: आत्मघाती गोल से ईरान को मिली विश्व कप की दूसरी जीत  आइसलैंड की टीम पहली बार वर्ल्ड कप में हिस्सा ले रही है. फुटबॉल जगत के महान खिलाड़ियों में शुमार लियोनेल मेसी ने अपने करियर में सभी ट्रॉफी जीती है, लेकिन वह अब तक अपने देश को फीफा वर्ल्ड कप का खिताब दिलाने में कामयाब नहीं हो पाए हैं.  वर्ल्ड कप में दुनियाभर के प्रशंसकों की निगाहें इस पर टिकी होंगी कि क्या फुटबॉल का यह जादूगर अर्जेंटीना को तीसरी बार इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट का खिताब दिलाने में कामयाब हो पाएगा? वर्ल्ड कप में अर्जेंटीना का गौरवशाली इतिहास रहा है.

साम्पोली ने आइसलैंड के साथ होने वाले मुकाबले से पहले कहा, ‘मैं नहीं मानता कि यह मेसी का अंतिम वर्ल्ड कप है. वैसे यह फैसला मेसी को ही लेना है कि उनके करियर का समापन कप होगा लेकिन मेरी नजर में यह निश्चित तौर पर उनका अंतिम वर्ल्ड कप नहीं है.’

2014 में ब्राजील में आयोजित वर्ल्ड कप के 20वें संस्करण के फाइनल में जर्मनी के हाथों हारने वाली अर्जेंटीनी टीम मेसी के नेतृत्व में 2018 वर्ल्ड कप के अपने अभियान का आगाज आइसलैंड के साथ खेलते हुए करेगी.

आइसलैंड की टीम पहली बार वर्ल्ड कप में हिस्सा ले रही है. फुटबॉल जगत के महान खिलाड़ियों में शुमार लियोनेल मेसी ने अपने करियर में सभी ट्रॉफी जीती है, लेकिन वह अब तक अपने देश को फीफा वर्ल्ड कप का खिताब दिलाने में कामयाब नहीं हो पाए हैं.

वर्ल्ड कप में दुनियाभर के प्रशंसकों की निगाहें इस पर टिकी होंगी कि क्या फुटबॉल का यह जादूगर अर्जेंटीना को तीसरी बार इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट का खिताब दिलाने में कामयाब हो पाएगा? वर्ल्ड कप में अर्जेंटीना का गौरवशाली इतिहास रहा है.

You May Also Like

English News