अलका लांबा: जनता ने जिसे वोट दिया उसे नहीं पहुंचा, EVM की जांच हो

दिल्ली विधानसभा का विशेष सत्र शुरू होते ही हंगामा हो गया. नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने आम आदमी पार्टी सरकार पर लैंड डील कराने का आरोप लगाया. विजेंद्र गुुप्ता इस मसले पर चर्चा की मांग करते रहे, लेकिन स्पीकर ने उन्हें परमिशन नहीं दी. इसके बाद वो काफी देर तक हंगामा करते रहे. जिसके बाद स्पीकर ने उन्हें न सिर्फ फटकार लगाई, बल्कि मार्शल को आदेश देकर सदन से बाहर निकलवाया.

वहीं दूसरी तरफ सरकार की तरफ से विधायक अलका लांबा ने ईवीएम में छेड़छाड़ पर चर्चा की शुरूआत की.

 Live…
-हमें ईवीएम देकर देखिए, हम बताएंगे कि टेंपरिंग संभव है.
-वैज्ञानिक को ईवीएम देने से कैसा डर?
-साजिशों का पर्दाफाश होना लोकतंत्र के जरूरी.
-दिल्ली विधानसभा चुनावों के परिणाम पर किसी ने आवाज नहीं उठाई.
-यूपी चुनाव में ईवीएम के साथ खेल हुआ.
-बॉम्बे हाईकोर्ट ने ईवीएम जब्त करने का आदेश दिया.
-वोटिंग से ज्यादा वोट गिनती में आए.
-जनता को ईवीएम के बारे में जानने का हक.
-हम मानते हैं कि जनता ने जिसे वोट दिया उसे नहीं पहुंचा.
-जेनरेशन-1 की मशीनों से वोट कराए गए. इसमें टैंपरिंग संभव है.
-चुनाव आयोग बताए कि जेनरेशन-2 की मशीन मौजूद थीं, तो जेनरेशन-1 की मशीन से वोट क्यों कराए गए?

सत्र से पहले केजरीवाल ने ट्वीट किया. ट्वीट में उन्होंने लिखा कि सदन में इस मसेल पर सफाई दी जाएगी. वहीं सत्र से पहले केजरीवाल ने अपने घर पार्टी नेताओं के साथ बैठक की. इस बीच, सीएम केजरीवाल के घर के बाहर बीजेपी युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया और केजरीवाल के इस्तीफे की मांग की.

सत्र से पहले बैठक
विधानसभा सत्र से पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर आम आदमी पार्टी नेताओं की बैठक बुलाई की. बैठक में शामिल होने के लिए डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, संजय सिंह और आशुतोष केजरीवाल के घर पहुंचे. आम आदमी पार्टी ने अपने विधायकों को व्हिप जारी कर विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान मौजूद रहने के निर्देश दिए.

केजरीवाल का ट्वीट
अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर सफाई दी है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘देश में चल रहे एक बहुत बड़े षड्यंत्र का सच आज सदन में सौरभ भारद्वाज देश के सामने रखेंगे. उन्हें जरूर सुनियेगा. सत्यमेव जयते.’

कपिल की विधायकी खत्म करने की हो सकती है मांग
दिल्ली विधानसभा के सत्र में आज AAP विधायक हंगामा कर सकते हैं. सूत्रों के मुताबिक पार्टी विधायक कपिल मिश्रा की विधायकी खत्म करने की मांग कर सकते हैं. बताया जा रहा है कि 6 विधायकों का एक दल कपिल के खिलाफ कार्रवाई की मांग रख सकता है.

सत्येंद्र जैन ने भी दी सफाई
वहीं इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने भी आरोपों पर सफाई दी. उन्होंने अपनी सफाई में कहा था कि शुक्रवार को वह केजरीवाल के घर गए ही नहीं. जैन ने ऐलान किया है कि वो कपिल मिश्रा के खिलाफ मानहानि का केस दर्ज करवाएंगे. उनका कहना था कि कपिल मिश्रा मानसिक संतुलन खो चुके हैं और निराधार आरोप लगा रहे हैं.

You May Also Like

English News