अलीगढ़ में बसपा प्रत्याशी फुरकान जीते, बीजेपी को 12 हजार वोटों से हराया

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के गठन के बाद पहली बार निकाय चुनावों के नतीजे आ रहे हैं. ऐसे में चुनाव को सीएम होगी की पहली अग्निपरीक्षा भी माना जा रहा है. यहां की अलीगढ़ नगर निगम सीट पर बीएसपी ने भारी जीत दर्ज की है. 1995 में गठन के बाद यहां बीजेपी का ही मेयर बना है. लेकिन इस बार बीएसपी के मोहम्मद फुरकान ने करीब 12 हजार वोटों से जीत दर्ज की है.अलीगढ़ में बसपा प्रत्याशी फुरकान जीते, बीजेपी को 12 हजार वोटों से हरायाCivic Election: इस बालीवुड एक्टर की भाभी को हार का सामना करना पड़ा!

नगर निगम सीट से बीजेपी प्रत्याशी राजीव अग्रवाल शुरू में आगे चल रहे थे. यहां से कांग्रेस ने मधुकर शर्मा, बीएसपी मोहम्मद फुरकान और सपा ने मुजाहित किदवई को चुनावी समर में उतारा है. शहर में पीने के पानी और सड़कों की बदहाली सबसे ज्यादा है और चुनाव इन्हीं प्रमुख मुद्दों पर लड़ा जा रहा है. पिछले चुनाव में बीजेपी की शकुंतला देवी को यहां से जीत मिली थी.

अलीगढ़ नगर निगम में 70 वार्ड आते हैं जबकि जिले में 2 विधानसभा सीटें हैं. विधानसभा चुनाव में भी यहां बीजेपी को जीत मिली थी. इसके अलावा जिले में 2 नगर पालिकाएं और 9 नगर पंचायतें हैं. चुनावी नतीजों के मद्देनजर प्रशासन ने विजय जुलूस और फायरिंग पर पूर्ण पाबंदी लगा रखी है और चप्पे-चप्पे पर पुलिस पेट्रोलिंग की जा रही है. अलीगढ़ यूपी के उन इलाकों में एक है जिनका सांप्रदायिक इतिहास रहा है. 

इस बार अलीगढ़ निकाय चुनाव में 53.25 फीसद वोट पड़े, जो पिछले चुनाव के 48.67 फीसद के मुकाबले करीब 5 फीसद ज्यादा रहे. नगर निगम क्षेत्र में 49.50 फीसद मतदान हुआ, पिछली बार यहां 42.99 फीसद वोट पड़े थे. निगर निगम में ईवीएम से वोटिंग हुई है और दोपहर तक नतीजे साफ हो जाएंगे. 

You May Also Like

English News