असम एनआरसी पर गृहमंत्री का आश्वासन कहा, ये अंतिम लिस्ट नहीं

असम राज्य को लेकर नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन्स (एनआरसी) द्वारा जारी किए गए ड्राफ्ट का मुद्दा आज सदन में छाया रहा. टीएमसी सांसदों ने इस मुद्दे पर आज सदन में भारी हंगामा किया, जिसके लिए राज्य सभा की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित करनी पड़ी. इससे पहले टीएमसी सांसदों ने इस असम एनआरसी ड्राफ्ट पर सदन में स्थगन प्रस्ताव पेश किया है. असम एनआरसी पर गृहमंत्री का आश्वासन कहा, ये अंतिम लिस्ट नहीं

सदन में हंगामे को रोकने के लिए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सांसदों को शांत कराने की कोशिश की, उन्होंने कहा कि एनआरसी मुद्दे को लेकर कुछ लोग भय का माहौल बना रहे हैं, जबकि ऐसा कुछ नहीं है, इस मुद्दे को बेवजह हौवा बनाया जा रहा है. उन्होंने रिपोर्ट को निष्पक्ष बताते हुए कहा है कि ये सिर्फ ड्राफ्ट है अंतिम लिस्ट नहीं है. अगर कुछ लोगों के नाम इस लिस्ट में नहीं हैं तो उन्हें डरने की जरुरत नहीं है, वे विदेशी ट्रिब्यूनल में भी अपील कर सकते हैं.

राजनाथ सिंह ने कहा कि किसी के भी खिलाफ जबरदस्ती कार्यवाही नहीं की जा रही है, इसलिए किसी को भी डरने की जरुरत नहीं है. जिन  40 लाख लोगों के नाम ड्राफ्ट में शामिल नहीं हैं, उन्हें अपनी बात रखने का मौका दिया जाएगा. राजनाथ सिंह के इस आश्वासन के बाद भी जब राज्य सभा में हंगामा नहीं रुका तो सभापति वेंकैया नायडू ने राज्यसभा दिन भर के लिए स्थगित कर दी, वहीं लोक सभा में  होम्योपैथी केंद्रीय परिषद (संशोधन) विधेयक 2018 पर चर्चा जारी है.

You May Also Like

English News