अहमद पटेल मामले में BJP का हमला, नकवी बोले-कांग्रेस का हाथ आतंकवाद के साथ

गुजरात में अस्पताल से गिरफ्तार किए गए आईएस आतंकियों के मामले को लेकर कांग्रेस सांसद अहमद पटेल पर लग रहे आरोपों पर भाजपा ने करारा हमला बोला।अहमद पटेल मामले में BJP का हमला, नकवी बोले-कांग्रेस का हाथ आतंकवाद के साथबड़ी खबर: यात्रियों की असुविधा को देखते हुए दिल्ली मेट्रो ने लिया ये बड़ा फैसला…

गुजरात सीएम विजय रूपानी द्वारा अहमद पटेल पर लगाए गए आरोपों के बाद भाजपा आलाकमान ने इस मामले पर सीधे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल से जवाब मांगा है।

भाजपा ने गुजरात के भरुच अस्पताल से गिरफ्तार किए गए आईएस आतंकियों के मामले को राष्ट्रीय सुरक्षा मसला बताते हुए कांग्रेस से जवाब देने को कहा है।

इस मामले पर शनिवार को केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने प्रेस कांफ्रेंस कर कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल उस अस्पताल से जुड़े थे, जिसमें आतंकी नौकरी करते थे, अहमद पटेल ही भरूच अस्पताल के कर्ता-धर्ता थे।

उन्होंने कहा कि अभी तक हम कहते थे कि कांग्रेस का हाथ भ्रष्टाचार के साथ मगर अब लोग कहेंगे कि कांग्रेस का हाथ आतंकवाद के साथ। नकवी ने कहा कि यह राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है जिसमें कांग्रेस की लीपापोती नहीं चलेगी, सोनिया गांधी और युवराज राहुल इस मामले पर जवाब दे।

वहीं उन्होंने अहमद पटेल पर निशाना साधते हुए कहा कि क्या अस्पताल बेनामी संपत्ति है। नकवी ने कहा कि अहमद पटेल पर कार्रवाई करने के बजाए कांग्रेस इस मामले में राजनीति कर रही है।

गौरतलब है कि बुधवार को एटीएस ने दो संदिग्ध आतंकियों को गुजरात में भूरुच के एक‌ अस्पताल से गिरफतार किया था। इनमें से एक की पहचान कासिम टिंबरवाला के तौर पर हुई है जो अंकलेश्वर अस्पताल में काम था और दूसरा आतंकी उबैद वकील है। 

इससे पहले गुजरात सीएम रूपानी ने भी कांग्रेस सांसद अहमद पटेल पर गंभीर आरोप लगाए। बीते शुक्रवार को रूपानी ने कहा कि यह देश की सुरक्षा से जुड़ा गंभीर मुद्दा है। पटेल की ओर से चलाए जा रहे अस्पताल में काम करने वाला आतंकी पकड़ा गया। पटेल हालांकि अस्पताल के ट्रस्टी पद से इस्तीफा दे चुके हैं, लेकिन इसका पूरा काम अब भी वही देख रहे हैं। 

अगर आतंकी गिरफ्तार न होते तो बड़ी घटना हो सकती थी, वे यहूदी स्थल पर हमले की साजिश रच रहे थे। आतंकी ने गिरफ्तारी से सिर्फ दो दिन पहले इस्तीफा दिया, इससे शक और गहरा हो जाता है।

 

loading...

You May Also Like

English News