आईएस हमलावर की पार्टनर पुलिस हिरासत में, चार लोगों को उतारा था मौत के घाट

आतंकी संगठन आईएस से संबंध रखने का दावा करने वाले एक शख्स ने फ्रांस में हमला कर कई लोगों को शुक्रवार को बंधक बना लिया था। इस हमले में कम से कम दो लोगों की मौत हो गई थी। वहीं 11 बजे के आस-पास हुए एक अन्य हमले में कुछ पुलिसकर्मियों के घायल होने की खबरें मिली थीं। इस मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने हमलावर के साथ रह रही महिला को हिरासत में ले लिया है। इस घटना की जिम्मेदारी आईएस ने ली है। आईएस हमलावर की पार्टनर पुलिस हिरासत में, चार लोगों को उतारा था मौत के घाटपहली घटना पांच हजार लोगों की जनसंख्या वाले एक मध्ययुगीन शहर ट्रेब्स की है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, आतंकी सुपर-यू मार्केट में सुबह के करीब 11:15 बजे घुसा और गोलीबारी शुरू कर दी। एक प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार अंदर घुसने से पहले उसने ‘अल्लाहु अकबर’ के नारे लगाए। स्थानीय अभियोजक कार्यालय ने कहा कि हमलावर ने अपना संबंध आईएस से बताया है और इसे आतंकी घटना माना जा रहा था।

पुलिस और सुरक्षाबल कार्रवाई कर रहे थे जिसमें कि हमलावर मारा गया है। पुलिस ने सुपरमार्केट के आस-पास के इलाकों को आम जनता के लिए बंद कर दिया गया था। वहीं हमले पर प्रतिक्रिया देते हुए प्रधानमंत्री एडूअर्ड फिलीप ने कहा था कि यह एक गंभीर मामला है। दूसरे हमले के बारे में पुलिस ने बताया कि एक शख्स ने कारकासोन इलाके में चार पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया। इस हमले में एक पुलिसकर्मी घायल हो गया था।

जनवरी, 2015 में एक व्यंग पत्रिका शार्ली हेब्दो पर आतंकी हमला किया गया था जिसमें 12 लोगों की मौत हो गई थी। इस हमले के बाद से ही फ्रांस हाई अलर्ट पर है। इसके बाद नवंबर, 2015 में पेरिस के एक बार, रेस्तरां, कंसर्ट वेन्यू और राष्ट्रीय स्टेडियम में आईएस आतंकियों ने विस्फोट और गोलीबारी की थी जिसमें 130 लोग मारे गए थे। 

You May Also Like

English News