आखिर कार खुल ही गया ये बड़ा राज… तो इस तरह से कट रहे थे चोटियां और बाल…

चोटी और बाल कटने की घटनाओं ने देश भर में दहशत फैला रखी है, लेकिन अब इसका राज खुल गया है। आइए हम आपको बताते हैं कि आखिर ये सब कैसे हो रहा है। आखिर कार खुल ही गया ये बड़ा राज... तो इस तरह से कट रहे थे चोटियां और बाल...

CM कैप्टन ने किया बड़ा ऐलान: कहा- न हो सियासी दबाव, पुलिस को जांच के लिए दिया जाए खुला हाथ

दरअसल, एक ऐसा मामला सामने आया है जिससे पता चलता है कि लोग अपने बाल खुद ही काट रहे हैं। यकीं नहीं आता तो देखिए, पंजाब के मोगा में एक अमृतधारी युवक ने रात के समय परिजनों से नजरें बचाकर खुद ही अपने बाल काटे और फिर सो गया। सुबह उठने पर उसने संदिग्ध हाल में बाल कटने की कहानी गढ़कर इलाके में सनसनी फैला दी।

वाकया जिले के गांव दौलतपुर का है। मामले में दूसरी ओर युवक के केस कटने की चर्चा के बाद कुछ ही देर यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। जब कुछ अकाली नेताओं ने उससे पूछताछ करनी शुरू की तो उसने सच्चाई उगल दी। गांव दौलतपुरा में निवासी एक दलित युवक प्रदीपपाल ने तकरीबन 8 महीने पहले अमृत छका था। उसने सुबह उठ कर परिजनों को बताया कि रात को संदिग्ध हालत में उसके बाल काट लिए गए।

मामले की चर्चा के जोर पकड़ने पर गांव के अकाली नेता एवं जिला परिषद मेंबर बूटा सिंह दौलतपुरा मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि युवक ने पूछताछ के दौरान माना लिया है कि उसने खुद ही अपने बाल काटने का काम किया है। वह रात के समय मकान के एक कमरे में अपने बाल काटने के बाद सिर पर परना बांधकर आंगन में सोए पड़े परिवार के पास जाकर सो गया और सुबह उठकर बाल काटे जाने की अफवाह फैला दी।

संगरूर में भी गांव नागरा में एक केशधारी बच्चे ने खुद ही कैंची से अपने बाल काट लिए और शोर मचा दिया कि किसी ने उसके बाल काट दिए हैं। पुलिस ने मामले की गहनता से जांच की और बच्चे के झूठ से पर्दा उठा दिया। सुनाम के डीएसपी विलियम जेजी ने बताया कि गांव नागरा के चौदह वर्षीय बच्चे की माता जसविंदर कौर ने पुलिस के पास शिकायत की थी।

महिला ने बताया कि रविवार सुबह उसके पुत्र जशनप्रीत सिंह ने शोर मचाते हुए बताया कि रात के समय जब वह घर की छत पर सो रहा था तो किसी अज्ञात व्यक्ति उसके केश काटकर उसके तकिए के नीचे रख गया। इसके बाद जब पुलिस ने परिवार वालों के सामने बच्चे से पूछताछ की तो उसने खुद ही स्वीकार कर लिया कि उसके बाल उसने खुद ही कैंची से काट लिए थे।

बच्चे ने यह भी बताया कि बाल लंबे होने की वजह से उसे परेशानी होती थी और उसका अकसर सिरदर्द रहता था। हालांकि इस बारे में उसने कई बार परिवार वालों से केश कटवाने की बात कही थी, लेकिन परिवार वाले नहीं माने। इन दिनों जब चोटी काटने की घटनाएं हो रही हैं तो उसने इसका फायदा उठाना चाहा और खुद ही अपने केश काट लिए।

You May Also Like

English News