आखिर क्यों..? इम्तियाज 10 साल बाद बदलना चाहते हैं ‘जब वी मेट’ का ये सीन

इम्तियाज अली निर्देशित फिल्म ‘जब वी मेट’ को दस साल हो गए. इस फिल्म ने न सिर्फ बॉक्स ऑफिस पर रिकॉर्ड बनाए, बल्कि ये दर्शकों को भी काफी पसंद आई थी. लेकिन फिर भी कई ऐसी चीजें हैं, जिन्हें इम्तियाज अली बदलना चाहते हैं. एक प्रमुख अखबार से बात करते हुए इम्तियाज ने कहा कि वैसे तो जब वी मेट के कई सीन ऐसे हैं, जिनसे वो संतुष्ट नहीं हैं, लेकिन एक सीन तो ऐसा है ही जिसे वो बदलना चाहते हैं.आखिर क्यों..? इम्तियाज 10 साल बाद बदलना चाहते हैं 'जब वी मेट' का ये सीनआखिर क्यों.? शादी की खबरों के बीच डॉक्टर से मिलने पहुंचे विराट-अनुष्का

उन्होंने कहा कि फिल्म में एक सीन आता है, जब शाहिद करीना को उनकी ट्रेन तक पहुंचाने के लिए तेजी से कार ड्राइव करते हैं. इस सीन में मिनिएचर ट्रेन्स का एक शॉट इस्तेमाल किया गया था. उसे अब देखकर उन्हें काफी झेंप महसूस होती है. दरअसल इस सीन में मिनिएचर सीन के शॉट का इस्तेमाल ट्रेन दिखाने के लिए किया गया था. इम्तियाज कहते हैं कि उन्हें इस सीन को बदलने का मन करता है.

बता दें कि जब वी मेट’ 10 साल पहले 26 अक्टूबर को रिलीज हुई थी. शुरुआत में फिल्म के लिए बॉबी देओल और आयशा टाकिया को लिए जाने की चर्चा थी, लेकिन बाद में इसके लिए शाहिद कपूर और करीना का नाम फाइनलल किया गया. इम्तियाज की मानें, तो फिल्म को सफल बनाने के लिए दोनों ही कलाकारों ने काफी मेहनत की थी. दोनों की केमिस्ट्री दर्शकों को काफी पसंद आई थी और आज भी लोग इस फिल्म को देखना काफी पसंद करते हैं. 

डायलॉग्स से लेकर फिल्म में करीना कपूर के कपड़े तक सभी कुछ ट्रेंड बन गया था. शाहिद और करीना के अफेयर की वजह से भी फिल्म काफी चर्चा में रही थी.

ये इम्तिआज़ अली के करियर की दूसरी फिल्म थी, इसने उन्हें काफी मशहूर कर दिया था. इससे पहले वह ‘सोचा न था’ फिल्म डायरेक्टर कर चुके थे. यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ कमाल नहीं दिखा पाई थी. आज इम्तियाज अली उन निर्देशकों की सूची में शामिल हैं, जिनके साथ हर कोई काम करना चाहता है.

loading...

You May Also Like

English News