आखिर क्यों ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार पर भड़क उठे हरभजन…?

ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार डेनिस फ्रीडमैन ने 12 सितंबर को टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली को ‘स्वीपर’ कहकर खिंचाई की थी। फ्रीडमैन के इस ट्वीट ने सोशल मीडिया पर काफी ध्यान आकर्षित किया था। फिर भारत और पाकिस्तान के फैंस ने मिलकर माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट पर ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार की धज्जियां उड़ाई थी। अब भारतीय ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने इस मामले पर अपनी राय प्रकट की है। उन्होंने इंडिया टुडे से बातचीत में ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार को खरीखोटी सुनाई।जब युवराज सिंह ने की थी ऑस्ट्रेलिया की जमकर धुनाई…..

अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने इस हरकत को शर्मनाक करार दिया और साथ ही ध्यान दिलाया कि कोई भी क्रिकेटर इस तरह की बेइज्जती झेलने का हकदार नहीं है। हरभजन के मुताबिक सभी व्यक्तियों को उनकी राष्ट्रीयता के बावजूद बराबरी से इज्जत मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे कमेंट करने वाले पत्रकार पर शर्म आती है। विराट कोहली या फिर किसी के लिए भी ऐसा लिखना इस पत्रकार की मुर्खता को साबित करता है। 

भज्जी के नाम से मशहूर हरभजन ने कहा, ‘ऐसा कमेंट करने वाले पत्रकार पर शर्म आती है। यह इस व्यक्ति की बेवकूफी है कि विराट कोहली के बारे में ऐसा कुछ लिख रहा है। मैं तो ये कहता हूं कि किसी और के बारे में भी उन्हें ऐसा कुछ कहने का हक नहीं है। आपको अपनी प्रतिष्ठा बरकरार रखना चाहिए और समझना चाहिए कि हम किस से बात कर रहे हैं और आपको किसी को कुछ दिखावा करने की जरुरत नहीं है। हम सभी अंत में मनुष्य हैं, भले ही हम ऑस्ट्रेलियाई हो या भारतीय या फिर पाकिस्तानी। हम किसी की बेइज्जती करने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि हम सभी मनुष्य हैं।’ 

37 वर्षीय हरभजन ने विराट कोहली को सलाह दी है कि वो इन उकसाने वाली चीजों से दूर रहे और अपना स्टैंडर्ड मेंटेन करे। हरभजन ने ध्यान दिलाया कि ऐसी घटनाएं आम हो जाती है जब आप सफलता के उस मुकाम पर पहुँच जाएं, जहां आज विराट कोहली खड़े हैं। भज्जी ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि विराट को इस पर कोई प्रतिक्रिया देने की जरुरत है। जब एक हाथी गली में चलता है तो वहां के कुत्ते भौंकते ही हैं। विराट कोहली हाथी हैं और उन्हें इन मामलों पर कोई टिपण्णी नहीं करनी चाहिए क्योंकि हर कोई विराट जैसा नहीं बन सकता।’  

हाल ही में कई क्रिकेटर्स सोशल मीडिया पर ट्रोल हुए हैं, इस पर हरभजन ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा, ‘सोशल मीडिया ऐसी चीज है, जहां आप जो सोचते हैं, वो अपने दोस्तों, फैंस और देशवासियों के सामने बताते हैं। ऐसे में किसी का छोटी से बात पर मजाक बनाना सही नहीं है। हम भी मनुष्य ही हैं। खिलाड़ी भी खुश होने के लिए अलग चीजें करता है, जैसे आप करते हैं। इसलिए हर किसी की निजता की इज्जत की जाना चाहिए।’

loading...

You May Also Like

English News