आखिर क्यों सानिया मिर्जा को बीच पार्टी से निकाला बाहर, कहा- अब कभी नहीं…

भारत की स्टार महिला टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा का कहना है कि जब भी उनके पर्सनल लाइफ की बात आती है, तो वह अपने रिश्तों को लेकर असुरक्षित महसूस नहीं करतीं। मगर वह अपने रिश्तों को लेकर अधिकारवादी (पजेसिव) रुख रखती हैं। सानिया का कहना है कि वह अपने रिश्तों को लेकर सेंसिटिव हैं। बता दें कि पाकिस्तान के क्रिकेट खिलाड़ी शोएब मलिक की पत्नी सानिया मिर्जा ने अभिनेत्री नेहा धूपिया के साथ एक चैट शो ‘नो फिल्टर नेहा’ में यह बात कही।आखिर क्यों सानिया मिर्जा को बीच पार्टी से निकाला बाहर, कहा- अब कभी नहीं...अभी-अभी: 300 करोड़ के घोटाले की जांच करने वाले IAS अफसर की जान का बना खतरा…

अपने आप को दिए जाने वाले सुझाव के बारे में सानिया ने कहा, ‘मुझे थोड़ा कम सेंसिटिव होने की जरूरत है। मैं अपने रिश्तों के लिए असुरक्षित नहीं, बल्कि सेंसिटिव हूं। मुझे अब अपनी समस्याओं को लेकर बेहतर तरीके से अधिक बातचीत करना होगी।’ टेनिस खिलाड़ी ने बातचीत के दौरान, उस लम्हें को भी याद किया जब हैदराबाद के फलकनुमा पैलेस से उन्हें बाहर जाने को कहा गया था।

सानिया ने कहा, ‘मैंने टेनिस में शीर्ष वरीयता हासिल करने पर पार्टी दी थी। पार्टी सारी रात चली, फिर अधिक उम्र वाले चले गए और युवा रह गए। फिर सभी शोर-शराबा करते हुए पैलेस के पूल में घुस गए थे, अच्छा रहा कि सभी ने कपड़े पहने हुए थे।’

उन्होंने कहा, ‘करीब पांच बजे पैलेस के लोगों ने कहा कि हमारी पार्टी की आवाज काफी तेज है और इस कारण अब हमें इस पार्टी को बंद करके जाना होगा। हमने काफी कोशिश की उन्हें मनाने की, लेकिन बाद में हमें जाना पड़ा। इससे पार्टी का मजा खराब हो गया था।’

You May Also Like

English News