आजमाएं ये 6 आसान उपाय, बढ़ जाएगी आपके स्मार्टफोन की स्पीड

एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में समय के साथ कई बड़े बदलाव देखने को मिल रहे हैं। पहले के मुकाबले फोन का प्रोसेसर, रैम और स्टोरेज को बढ़ाया जा रहा है। फोन को जितना हाईटेक बनाया जा रहा है उतना ही फोन में स्लो या हैंग होने की परेशानी भी बढ़ रही है। फोन के स्लो या हैंग होने का एक बड़ा कारण कैशे डाटा, अनयूज्ड फाइल और फोल्डर्स हैं। इन सबसे निजात पाने के लिए यूजर्स एंटी-वायरस एप्स का सहारा ले रहे हैं। ऐसे में हम आपको एंड्रायड फोन को फास्ट करने के कुछ तरीके बताने जा रहे हैं जिसके लिए किसी ऐप को डाउनलोड करने की जरुरत नहीं है।एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में समय के साथ कई बड़े बदलाव देखने को मिल रहे हैं। पहले के मुकाबले फोन का प्रोसेसर, रैम और स्टोरेज को बढ़ाया जा रहा है। फोन को जितना हाईटेक बनाया जा रहा है उतना ही फोन में स्लो या हैंग होने की परेशानी भी बढ़ रही है। फोन के स्लो या हैंग होने का एक बड़ा कारण कैशे डाटा, अनयूज्ड फाइल और फोल्डर्स हैं। इन सबसे निजात पाने के लिए यूजर्स एंटी-वायरस एप्स का सहारा ले रहे हैं। ऐसे में हम आपको एंड्रायड फोन को फास्ट करने के कुछ तरीके बताने जा रहे हैं जिसके लिए किसी ऐप को डाउनलोड करने की जरुरत नहीं है।  1.	होम स्क्रीन को करें क्लियर -   फोन की होम स्क्रीन को क्लियर रखें। फोन में लाइव वॉलपेपर या वेदर अपडेट विजेट को रीमूव करें। साथ ही अगर फोन की होम स्क्रीन पर कई विंडोज हैं तो उन्हें भी रीमूव कर दें क्योंकि इन सबसे फोन स्लो होने की संभावना ज्यादा बढ़ जाती है।  2.	डाटा सेवर मोड को करें ऑन -   क्रोम ब्राउजर में डाटा सेवर ऑप्शन को ऑन कर दें। इससे क्रोम किसी भी पेज को कंप्रेस कर ओपन करता है। इससे पेज जल्दी लोड होता है और कम डाटा भी खर्च होता है। हालांकि, इससे इमेज और वीडियो क्वालिटी भी कम हो जाती है, लेकिन फोन स्लो होने की परेशानी नहीं आती।  3.	ऑटो-सिंक को करें ऑफ -   कई एप्स ऐसे हैं जो ऑटो सिंक के विकल्प से आती हैं। अगर आपको ऑटो-सिंक की जरुरत नहीं है तो इन्हें ऑफ कर दें। ऐप का डाटा अगर लगातार ऑटो-सिंक होता है तो इससे ऐप स्लो हो जाती है और फोन पर भी लोड पड़ता है।  4.	कैशे डाटा को करें क्लियर -   स्मार्टफोन में हर ऐप का कैशे डाटा इक्ट्ठा हो जाता है। इसे समय समय पर डिलीट कर देना चाहिए। इनमें कई जंक फाइल्स भी होती हैं जो फोन को काफी स्लो कर देती हैं।  5.	बैकग्राउंड में चल रही एप्स को करें बंद -   यूजर्स फोन में जितनी भी ऐप को ओपन करते हैं उन्हें बंद करने के बाद भी वो बैकग्राउंड में एक्टिव रहती हैं। इससे फोन हैंग होने लगता है क्योंकि रैम और प्रोसेसर पर इससे काफी लोड पड़ता है। ऐसे में बैकग्राउंड में चल रही एप्स को बंद कर दें।  6.	फोन के सॉफ्टवेयर को रखें अपडेट -   जब भी आपके फोन में सॉफ्टेवयर अपडेट आए तो उसे अपडेट करें। फोन को समय-समय पर अपडेट करना फोन की परफॉर्मेंस को बेहतर बनाता है।

1. होम स्क्रीन को करें क्लियर –

फोन की होम स्क्रीन को क्लियर रखें। फोन में लाइव वॉलपेपर या वेदर अपडेट विजेट को रीमूव करें। साथ ही अगर फोन की होम स्क्रीन पर कई विंडोज हैं तो उन्हें भी रीमूव कर दें क्योंकि इन सबसे फोन स्लो होने की संभावना ज्यादा बढ़ जाती है।

2. डाटा सेवर मोड को करें ऑन –

क्रोम ब्राउजर में डाटा सेवर ऑप्शन को ऑन कर दें। इससे क्रोम किसी भी पेज को कंप्रेस कर ओपन करता है। इससे पेज जल्दी लोड होता है और कम डाटा भी खर्च होता है। हालांकि, इससे इमेज और वीडियो क्वालिटी भी कम हो जाती है, लेकिन फोन स्लो होने की परेशानी नहीं आती।

3. ऑटो-सिंक को करें ऑफ –

कई एप्स ऐसे हैं जो ऑटो सिंक के विकल्प से आती हैं। अगर आपको ऑटो-सिंक की जरुरत नहीं है तो इन्हें ऑफ कर दें। ऐप का डाटा अगर लगातार ऑटो-सिंक होता है तो इससे ऐप स्लो हो जाती है और फोन पर भी लोड पड़ता है।

4. कैशे डाटा को करें क्लियर –

स्मार्टफोन में हर ऐप का कैशे डाटा इक्ट्ठा हो जाता है। इसे समय समय पर डिलीट कर देना चाहिए। इनमें कई जंक फाइल्स भी होती हैं जो फोन को काफी स्लो कर देती हैं।

5. बैकग्राउंड में चल रही एप्स को करें बंद –

यूजर्स फोन में जितनी भी ऐप को ओपन करते हैं उन्हें बंद करने के बाद भी वो बैकग्राउंड में एक्टिव रहती हैं। इससे फोन हैंग होने लगता है क्योंकि रैम और प्रोसेसर पर इससे काफी लोड पड़ता है। ऐसे में बैकग्राउंड में चल रही एप्स को बंद कर दें।

6. फोन के सॉफ्टवेयर को रखें अपडेट –

जब भी आपके फोन में सॉफ्टेवयर अपडेट आए तो उसे अपडेट करें। फोन को समय-समय पर अपडेट करना फोन की परफॉर्मेंस को बेहतर बनाता है।

You May Also Like

English News