आज नीति आयोग की बैठक में पेश होगा ‘न्यू इंडिया 2022’ का एजेंडा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आज राष्ट्रपति भवन में नीति आयोग की चौथी बैठक होगी. इसमें राज्यों के मुख्यमंत्री, केंद्र शासित प्रदेशों के उप राज्यपाल और कैबिनेट मंत्री शामिल होंगे.इस बैठक में ‘न्यू इंडिया 2022’ का एजेंडा पेश किया जाएगा और उस पर काम करने की रणनीति भी बताई जाएगी.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आज राष्ट्रपति भवन में नीति आयोग की चौथी बैठक होगी. इसमें राज्यों के मुख्यमंत्री, केंद्र शासित प्रदेशों के उप राज्यपाल और कैबिनेट मंत्री शामिल होंगे.इस बैठक में ‘न्यू इंडिया 2022’ का एजेंडा पेश किया जाएगा और उस पर काम करने की रणनीति भी बताई जाएगी.    मिली जानकारी के अनुसार दो दिवसीय यह बैठक सुबह 9:30 से शुरू होगी.इस बैठक में राज्यों के मुख्यमंत्री, केंद्र शासित प्रदेशों के उप राज्यपाल और कैबिनेट मंत्री हिस्सा लेंगे .बता दें कि प्रधानमंत्री नीति आयोग की गवर्निग कांउसिल के अध्यक्ष हैं और सभी राज्यों के मुख्यमंत्री इसके सदस्य हैं. इस आयोग की तीसरी अंतिम बैठक गत वर्ष अप्रैल में हुई थी.इस बैठक को लेकर पीएम ने ट्वीट भी किया है .    उल्लेखनीय है कि इस बैठक में देश की स्वास्थ्य व्यवस्था को सुधारने पर मंथन करने के साथ ही 'आयुष्मान भारत' कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जाएगा.इसके साथ ही आगामी बैठक में देश के विकास के रणनीति पत्र और विजन दस्तावेज-2030 को अंतिम रूप दिया जाएगा , वहीं किसानों की स्थिति और खेती की दशा पर भी बैठक में चर्चा की जाएगी.स्मरण रहे कि मोदी सरकार ने सत्ता में आने के बाद योजना आयोग को खत्म कर एक जनवरी 2015 को नीति आयोग का गठन किया था.

मिली जानकारी के अनुसार दो दिवसीय यह बैठक सुबह 9:30 से शुरू होगी.इस बैठक में राज्यों के मुख्यमंत्री, केंद्र शासित प्रदेशों के उप राज्यपाल और कैबिनेट मंत्री हिस्सा लेंगे .बता दें कि प्रधानमंत्री नीति आयोग की गवर्निग कांउसिल के अध्यक्ष हैं और सभी राज्यों के मुख्यमंत्री इसके सदस्य हैं. इस आयोग की तीसरी अंतिम बैठक गत वर्ष अप्रैल में हुई थी.इस बैठक को लेकर पीएम ने ट्वीट भी किया है .

उल्लेखनीय है कि इस बैठक में देश की स्वास्थ्य व्यवस्था को सुधारने पर मंथन करने के साथ ही ‘आयुष्मान भारत’ कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जाएगा.इसके साथ ही आगामी बैठक में देश के विकास के रणनीति पत्र और विजन दस्तावेज-2030 को अंतिम रूप दिया जाएगा , वहीं किसानों की स्थिति और खेती की दशा पर भी बैठक में चर्चा की जाएगी.स्मरण रहे कि मोदी सरकार ने सत्ता में आने के बाद योजना आयोग को खत्म कर एक जनवरी 2015 को नीति आयोग का गठन किया था.

You May Also Like

English News