आज राष्ट्रपति कानपुर के ईश्वरीगंज गांव में करेंगे ‘स्वच्छता ही सेवा अभियान’ कार्यक्रम

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद शुक्रवार को कानपुर शहर आ रहेे हैं। ढाई बजे ईश्वरीगंज में शुरु होने वाले स्वच्छता ही सेवा अभियान कार्यक्रम में शिरकत करने के बाद राष्ट्रपति पूर्व सांसद ईश्वरचंंद्र गुुप्त के तिलक नगर स्थित आवास पर सर्वदलीय बैठक करेंगे।   कानपुर कल्याणपुर ब्लॉक का ईश्वरीगंज गांव कानपुर का पहला खुले में शौच से मुक्त होने वाला गांव है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति बनने के बाद उनके गांव परौंख और आसपास के ग्रामीणों के दिन बहुरने वाले हैं। अभी तक कानपुर देहात परौंख के सबसे करीब रेलवे स्टेशन झींझक है। अब इटावा-बिंदकी के लिए प्रस्तावित नई रेलवे लाइन पर सिकंदरा में नया रेलवे स्टेशन बनेगा। इस लाइन के लिए सर्वे में इस स्टेशन को शामिल कर रिपोर्ट उत्तर मध्य रेलवे के इलाहाबाद जोनल मुख्यालय को भेज दी गई है। रेलवे को इस नये रूट की फिजिबिलिटी मिल चुकी है।आज राष्ट्रपति कानपुर के ईश्वरीगंज गांव में करेंगे 'स्वच्छता ही सेवा अभियान' कार्यक्रमBig Breaking: लखनऊ के चारबाग से तीन बांग्लादेशी युवक धरे गये, एटीएस कर रही है पूछताछ!

राष्ट्रपति आगमन के मद्देनजर हो रहीं तैयारियां

अभी तक परौंख और उसके आसपास के लोगों को कानपुर जाने के लिए करीब 15 किलोमीटर दूर झींझक रेलवे स्टेशन आना पड़ता है। यह स्टेशन दिल्ली-कानपुर रेल लाइन पर है। इसलिए इस रूट के अलावा किसी दूसरे रूट पर यात्रा करने के लिए भी उन्हें कानपुर सेंट्रल आना पड़ता है। परौंख से सिकंदरा की दूरी करीब 22 किलोमीटर है।

सिकंदरा में रेलवे स्टेशन बनने के बाद यहां के लोग तीन नये रूट से जुड़ जाएंगे। बिना कानपुर आए वह इलाहाबाद, फतेहपुर रूट और पुखरायां होते हुए झांसी, मध्य प्रदेश, मुंबई (महाराष्ट्र) के रूट की ट्रेनों से सिकंदरा रेलवे स्टेशन से होकर आ-जा सकेंगे। इसके लिए उन्हें कानपुर सेंट्रल नहीं आना पड़ेगा।

इस लाइन का फिजिबिलिटी सर्वे पूरा होने और सिकंदरा में नया रेलवे स्टेशन का प्रस्ताव बनाकर भेजने से गांव के लोगों की उम्मीद बढ़ गई है। अभी तक यह लोग झींझक, पुखरायां, घाटमपुर, भोगनीपुर तक सड़क मार्ग से आते-जाते हैं। इस नये रेलवे स्टेशन और नई प्रस्तावित लाइन से लोगों को सहूलियत होगी। झींझक से बड़ा और वहां के लोगों के लिए अधिक उपयोगी स्टेशन सिकंदरा होगा। राष्ट्रपति का गांव परौंख सिकंदरा विधानसभा क्षेत्र में ही आता है। 

यहां भी बनेंगे नये रेलवे स्टेशन

इटावा-बिंदकी रेल लाइन बनने पर 22 नई जगहों पर नये रेलवे स्टेशन बनाने का प्रस्ताव है। इसमें इटावा के महेवा, बकेवर, सराय इकदिल, औरैया के सराय अजीतमल, फतेहपुर के सराय बकेवर, जहानाबाद, कानपुर देहात के मूसा नगर, अमरौधा, सट्टी, राजपुर समेत 22 नये रेलवे स्टेशन बनेंगे। पुखरायां रेलवे स्टेशन को जंक्शन का दर्जा मिल जाएगा। इस प्रोजेक्ट में करीब 3800 करोड़ से 4000 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। 

‘नई रेल लाइन की सर्वे रिपोर्ट जोनल मुख्यालय भेज दी गई है। यह अच्छा प्रोजेक्ट है। सिकंदरा में नया रेलवे स्टेशन बन जाने से परौंख के लोग सीधे इलाहाबाद, झांसी और नई दिल्ली जा सकेंगे। बोर्ड से मंजूरी मिलने के बाद इस पर काम आगे बढ़ेगा।’
– डीके मिश्रा, डिप्टी चीफ इंजीनियर, निर्माण इकाई, एनसीआर

राष्ट्रपति आगमन के चलते हटाया अतिक्रमण

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के आगमन के मद्देनजर बुधवार को नगर आयुक्त ने स्वरूप नगर, नवाबगंज, विष्णुपुरी, दयानंद विहार, इंद्रा नगर, मैनावती मार्ग, कल्याणपुर-बिठूर रोड का निरीक्षण किया। उन्होंने इन क्षेत्रों से अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए। इस पर क्षेत्रों में अतिक्रमण हटाया गया। पैचवर्क, सफाई कराई गई। बंद सोडियम लाइटें भी ठीक कराई गईं।

राष्ट्रपति के मंच से स्वच्छता का संदेश देगी मानसी

कानपुर  बिठूर के ईश्वरीगंज में 15 सितंबर को राष्ट्रपति के स्वच्छता अभियान पर होने वाले कार्यक्रम में शहर के दयानंद गर्ल्स पीजी कॉलेज की छात्रा (एनसीसी कैडेट) को भी स्वच्छता पर भाषण देने के लिए चयनित किया गया है। देश भर से सात लोगों को मंच से स्वच्छता अभियान पर भाषण देने के लिए चुना गया है। जिसमें मानसी का नाम भी शामिल है। इससे कॉलेज प्रशासन के साथ ही मानसी के घर-परिवार में भी खुशी का माहौल है।

सिविल लाइंस स्थित दयानंद गर्ल्स पीजी कॉलेज में मानसी बीए फर्स्ट ईयर की छात्रा है। इसके साथ ही एनसीसी कैडेट भी है। मानसी ने बताया कि समाज सेवा में रुचि होने के चलते एनसीसी ज्वाइन किया है। राष्ट्रपति के कार्यक्रम में स्वच्छता पर भाषण देने के लिए उन्होंने एनसीसी हेड क्वार्टर में अपना प्रेजेंटेशन दिया था। शहर भर के कॉलेजों में सबसे बेहतर प्रेजेंटेशन होने के चलते मानसी का नाम चयनित किया गया है।

मानसी ने बताया कि उनके भाषण में स्वच्छ भारत के लिए क्या होना चाहिए। किस तरह स्वच्छता को लेकर लोगों को जागरूक किया जा सकता है। स्वच्छता के लिए किसी पर दबाव बनाने व मजबूर करने से सुधार नहीं होगा। बल्कि लोगों को जागरूक करने और समझ विकसित करने की जरूरत है। तभी धरातल पर इसका प्रभाव दिखाई देगा। इससे पहले भी मानसी ने कॉलेज स्तर पर एनसीसी में बेहतरीन प्रदर्शन किया है, लेकिन इतने बड़े मंच पर पहली बार अपनी बात रखने का मौका मिला है। मानसी ने बताया कि इसमें कॉलेज की एनसीसी हेड डॉ. सुब्रा की भी अहम भूमिका है। 

छह मिनट का भाषण था, लेकिन दो मिनट मिला

मानसी ने बताया कि उन्होंने छह मिनट का स्वच्छता पर प्रेजेंटेशन तैयार किया था, लेकिन कार्यक्रम का टाइट शेड्यूल होने के चलते उन्हें महज दो मिनट का भाषण देने का मौका ही मिल सका है, लेकिन फिर भी वह दो मिनट में ही स्वच्छता पर ऐसा भाषण देंगी कि गागर में सागर भरने के बराबर होगा।

शहर और कॉलेज के लिए गर्व की बात है कि राष्ट्रपति के मंच से शहर की बेटी भी स्वच्छता विषय पर लोगों को संबोधित करेगी। इस तरह के कार्यक्रम में युवाओं को मौका देने से ही बदलाव की बयार आएगी।
– डॉ. साधना सिंह, प्राचार्या डीजी पीजी कॉलेज

प्रोफाइल-
नाम – मानसी द्विवेदी
कक्षा – बीए प्रथम वर्ष, एनसीसी कैडेट
पिता – एलबी द्विवेदी (दयानंद गर्ल्स पीजी कॉलेज में क्लर्क)
मां – बबिता द्विवेदी
निवास – शुक्लागंज कंचन नगर

राज्यपाल, मुख्यमंत्री के साथ अफसर करेंगे स्वागत

ईश्वरीगंज में हेलीपैड पर उतरते ही राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ, ब्रिगेडियर बीएम शर्मा, एयर कमाडोर वीएन कुमार, एडीजी अविनाश चंद्र, कमिश्नर पीके महान्ति, आईजी आलोक सिंह, जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह, एसएसपी सोनिया सिंह उनका स्वागत करेंगी। 

स्वागत करने के लिए दूसरी पंक्ति में होंगे मंत्री
ईश्वरीगंज में हेलीपैड पर राष्ट्रपति का स्वागत करने के लिए छह फीट दूर दूसरी पंक्ति में प्रदेश के मंत्री खड़े होंगे। इनमें कैबिनेट मंत्री सतीश महाना, सत्यदेव पचौरी, सांसद मुरली मनोहर जोशी और सांसद देवेंद्र सिंह भोले शामिल हैं।

राष्ट्रपति के मंच पर ये प्रमुख लोग रहेंगे
ईश्वरीगंज में राष्ट्रपति के मंच पर मुख्यमंत्री और राज्यपाल रहेंगे। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, केंद्रीय मंत्री उमा भारती, सांसद मुरली मनोहर जोशी, सांसद देवेंद्र सिंह भोले समेत अन्य कई लोगों को मंच पर जगह मिलेगी। क्षेत्रीय विधायक होने के नाते अभिजीत सिंह सांगा को भी मंच पर जगह दी जा सकती है।

तिलक नगर में राष्ट्रपति से मिलेंगे सौ लोग
पूर्व सांसद ईश्वरचंद्र गुप्ता के आवास पर राष्ट्रपति से सौ लोग मुलाकात करेंगे। इनमें पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल, कई पूर्व सांसद, पूर्व विधायक और अन्य लोग शामिल हैं।

लखनऊ से ही खाना खाकर आएंगे राष्ट्रपति
राष्ट्रपति लखनऊ से ही खाना खाकर आएंगे। यहां उन्हें नाश्ता दिया जाएगा। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के कई इंसपेक्टरों को अलग-अलग ड्यूटी पर लगाया गया है। यह लोग राष्ट्रपति को दिए जाने वाले पानी तक की जांच करेंगे। हालांकि राष्ट्रपति के साथ भी खाने की जांच करने वाले अफसर होंगे।

मेघालय की सरपंच भी राष्ट्रपति के मंच से बोलेंगी
मेघालय के गांव खेहरमवाई की सरपंच वेंजोस्थीया भी राष्ट्रपति के मंच से दो मिनट बोलेंगी। एडीएम एलए समीर वर्मा ने बताया कि कार्यक्रम में उनका आना तय हो गया है। उन्होंने बताया कि जाने माने उद्योगपति रतन टाटा इंडिया टुडे ग्रुप के प्रमुख अरुण पुरी किसी कारण से कार्यक्रम में नहीं आ पा रहे हैं।

loading...

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English News