आज सीएम योगी ने पूरा किया 1 महीना, कर दिखाए वो काम जो दूसरे 5 साल में भी नहीं कर पाए

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत हासिल करने वाली योगी आदित्यनाथ सरकार को आज एक महीना पूरा हो गया है। पहले दिन से ही सीएम योगी एक्शन मोड में आ गए थे। यूपी को बदलने और विकास का वनवास दूर करने के वादे के साथ सत्ता में आई योगी सरकार के एक महीने पूरे हो गए हैं। इस दौरान पांच बड़े चुनावी वादों पर क्या प्रगति हुई आइए डालते हैं इसपर नजर।

अभी अभी: पीएम मोदी ने कर दी हाँ, सीएम योगी ने ले लिया ये सबसे बड़ा फैसला…

क्या वादा किया था BJP ने और क्या हुआ अब तक पूरा

चुनाव प्रचार के दौरान पीएम मोदी ने जनता से वादा किया था कि अगर उनकी सरकार बनता है तो पहली कैबिनेट बैठक में ही किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। बीजेपी ने अपने वादे को पूरा करते हुए सरकार बनने के 19 दिन बाद हुई पहली बैठक में किसान के कर्जे को माफ कर दिया।

मनचलों पर लगाम

समाजवादी सरकार पर आरोप लग रहा था कि जब से उनकी सरकार बनी है तब से प्रदेश में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। इस मुद्दे का भी चुनाव प्रचार के दौरान बीजेपी ने फायदा उठाया। बीजेपी ने वादा किया था कि उनकी सरकार बनते ही प्रदेश के मनचलों के खिलाफ कार्रावाई की जाएगी। सत्ता बदलते ही यूपी पुलिस ने हर जिले में एंटी रोमियो स्कवॉड गठित कर दिया। मनचलों के खिलाफ दस्ते की कार्रवाई शुरू हो गई और पूरे राज्य में एंटी रोमियो दस्ते का एक्शन चर्चा में आ गया। स्कूल-कॉलेजों के बाहर, पार्कों में मनचले पकड़े जाने लगे।

24 घंटे बिजली मिलेगी

बीजेपी के चुनावी वादे में 24 घंटे बिजली देने का वादा भी सबसे अहम है। सत्ता में आते ही योगी सरकार ने इसके लिए तेजी से कदम उठाया। योगी सरकार ने कैबिनेट बैठक में फैसला किया कि शहरों में 24 घंटे और गांवों में 18 घंटे बिजली दी जाएगी और दिसंबर 2018 तक सभी घरों में 24 घंटे बिजली आपूर्ति सुनिश्चित की जाएगी। इसके अलावा ट्रांसफर्मर खराब होने पर शहरों में 24 घंटे और गांवों में 48 घंटे में बदलना होगा ये फैसला भी किया गया। बिजली बिल पर सरचार्ज भी योगी सरकार ने माफ कर दिया। इसके अलावा केंद्र के बिजली मंत्रालय के साथ बैठक कर दीर्घकालीन ऊर्जा योजना पर भी योगी सरकार काम कर रही है।

अवैध बूचड़खानों पर लगे ताले

बीजेपी का एक बड़ा चुनावी वादा था यूपी में अवैध बूचड़खानों पर ताला लगाने का। सरकार बदलते ही आगरा, मेरठ, इलाहाबाद, लखनऊ समेत तमाम जगहों पर बूचड़खानों पर छापे पड़े। इसके बाद मीट कारोबारियों की हड़ताल भी हुई। लेकिन सीएम योगी ने साफ कर दिया कि अवैध बूचड़खानों को नहीं चलने देंगे। सीएम योगी ने कहा कि बूचड़खानों पर सुप्रीम कोर्ट और एनजीटी के फैसलों को लागू किया जाएगा।

विकास का वनवास खत्म हुआ

पीएम मोदी ने चुनावी रैली में कहा था कि अगर यूपी में बीजेपी की सरकार बनती है तो विकास का 14 साल का वनवास खत्म होगा और यूपी को देश के विकास का इंजन बनाया जाएगा। योगी सरकार ने बुंदेलखंड के लिए पेयजल परियोजना का ऐलान किया है। पहली कैबिनेट बैठक में ही योगी सरकार ने नई उद्योग नीति लाने का ऐलान किया। इसके लिए पांच मंत्रियों का समूह बनाया गया और मंत्रियों को दूसरे राज्यों की उद्योग नीति का अध्ययन करने के लिए दौरे पर भी भेजा गया।

उत्तर प्रदेश की आबादी 22 करोड़ है यानी देश की आबादी की 16 फीसदी, लेकिन जीडीपी में यूपी का हिस्सा सिर्फ 12 फीसदी है। प्रति व्यक्ति आय में यूपी 31वें नंबर पर हैं। यूपी में 30 फीसदी गरीब हैं, जबकि राष्ट्रीय स्तर पर ये आंकड़ा 22 फीसदी है। जानकारों के मुताबिक अगर यूपी में विकास होता है, तो देश की विकास दर एक फीसदी बढ़ जाएगी।

You May Also Like

English News