आज सुबह: मुरैना में ट्रैक्टर-जीप की भिड़ंत में गई 12 जाने

मध्यप्रदेश के मुरैना में अभी अभी सुबह ट्रैक्टर और जीप कि भिड़ंत में 12 लोगों की मौत हो गई है. ट्रैक्टर स्वराज 735 FE  अवैध खनन की गई रेत ले जा रहा था और अनियत्रित हो कर सामने से आ रही जीप में जा घुसा जिसके बाद इस भीषण सड़क दुर्घटना में कुल 12 लोगों ने जान गवाई और आठ अन्य घायल हो गए जिन्हे अस्पताल में भर्ती किया गया है. मुरैना वैसे भी अवैध खनन के लिए बदनाम रहा है. मगर आज ये अवैध धंधा 12  लोगों की जान ले गया .मध्यप्रदेश के मुरैना में अभी अभी सुबह ट्रैक्टर और जीप कि भिड़ंत में 12 लोगों की मौत हो गई है. ट्रैक्टर स्वराज 735 FE  अवैध खनन की गई रेत ले जा रहा था और अनियत्रित हो कर सामने से आ रही जीप में जा घुसा जिसके बाद इस भीषण सड़क दुर्घटना में कुल 12 लोगों ने जान गवाई और आठ अन्य घायल हो गए जिन्हे अस्पताल में भर्ती किया गया है. मुरैना वैसे भी अवैध खनन के लिए बदनाम रहा है. मगर आज ये अवैध धंधा 12  लोगों की जान ले गया .  सवाल अब पुलिस और प्रशासन पर भी है कि सब कुछ जान लेने के बाद भी क्यों अब तक ये इलाका इस तरह की गतिविधियों से मुक्त नहीं हो पा रहा है. जहा सूबे में हर जगह भाषण में सरकार खुद की तारीफ करने का एक भी मौका नहीं छोड़ती. वही मुरैना पता नहीं कब से इस दंश को झेल रहा है और समय समय पर मासूम लोगों की जाने इस तरह से जाती रही है.  बिना मिली भगत इतना ओपन और व्यापक धंधा नहीं पनप सकता क्योकि रेत खनन चार दीवारी के बीच तो नहीं किया जा सकता, बहरहाल घटना स्थल पर पुलिस पहुंची है और राहत और बचाव कार्य किए जा रहे है.

सवाल अब पुलिस और प्रशासन पर भी है कि सब कुछ जान लेने के बाद भी क्यों अब तक ये इलाका इस तरह की गतिविधियों से मुक्त नहीं हो पा रहा है. जहा सूबे में हर जगह भाषण में सरकार खुद की तारीफ करने का एक भी मौका नहीं छोड़ती. वही मुरैना पता नहीं कब से इस दंश को झेल रहा है और समय समय पर मासूम लोगों की जाने इस तरह से जाती रही है.

बिना मिली भगत इतना ओपन और व्यापक धंधा नहीं पनप सकता क्योकि रेत खनन चार दीवारी के बीच तो नहीं किया जा सकता, बहरहाल घटना स्थल पर पुलिस पहुंची है और राहत और बचाव कार्य किए जा रहे है. 

You May Also Like

English News