आठ साल की मासूम से दुराचार के बाद हत्या सरसो के खेत में मिला शव

लखनऊ , 10 दिसम्बर गोसाईगंज इलाके में रहने वाले एक किसान की 8 साल की मासूम बेटी की दुराचार के बाद बेरहमी से हत्या कर दी गयी। बच्ची का शव सरसो के खेत में पड़ा मिला। परिवार वालों ने गांव के ही रहने वाले एक किशोर पर बच्ची के साथ हैवानियत व हत्या का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज करायी है। फिलहाल पुलिस इस मामले में सभी पहलुओं पर छानबीन कर रही है। 
आठ साल की मासूम से दुराचार के बाद हत्या सरसो के खेत में मिला शव
एसपी ग्रामीण प्रताप गोपन्द्र यादव ने बताया कि गोसाईगंज के एक गांव में किसान अपने परिवार के साथ रहता है। बताया जाता है कि शनिवार की सुबह उसकी 8 साल की बेटी घर से शौच जाने की बात कहकर निकली थी। घर से निकले के बाद काफी देर के बाद भी जब किशोरी वापस नहीं लौटी तो उसकी मां उसको तलाशने के लिए निकली। घर से कुछ दूरी पर स्थित एक किशोर के घर के सामने किशोरी के पास मौजूद पानी की बोतल पड़ी हुई थी। बेटी के पास मौजूद बोतल लावारिस हालत में पड़ी देख मां घबरा गयी।
इसके बाद वह बेटी को तलाशती हुए सरसो के खेत में पहुंची तो देखा कि मासूम का शव खेत में पड़ा है। उसके शरीर पर मौजूद कपड़े अस्त-व्यस्त हैं। यह मंजर देख महिला ने शोर मचा दिया। शोर होते ही आसपास के लोग भी मदद के लिए जमा हो गये। बच्ची का शव व उसके कपड़े देख गांव के लोग समझ गये कि मासूम के साथ किसी ने हैवानियत करने के बाद उसकी हत्या कर दी। बच्ची के साथ दुराचार व हत्या की सूचना मिलते ही मौके पर गोसाईगंज पुलिस भी पहुंच गयी। छानबीन के बाद पुलिस ने बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
बच्ची के पिता ने आरोप लगाया है कि जिस किशोर के घर के सामने बच्ची की बोतल पड़ी मिली थी उसी किशोर ने इस वारदात को अंजाम दिया है। बच्ची की मां का यह भी आरोप है कि उसने किशोर को खेत की तरफ से भागते हुए देखा भी था। फिलहाल पुलिस ने बच्ची के पिता की तहरीर पर आरोपी किशोर के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कर ली है और सभी पहलुओं पर छानबीन कर रही है। आरोपी किशोर पहले भी कर चुका था बच्ची को परेशान मासूम बच्ची की हत्या के मामले में छानबीन कर रही पुलिस को इस बात का पता चला है कि परिवार वालों ने जिस किशोर पर दुराचार व हत्या का आरोप लगाया है वह पहले भी बच्ची के साथ अभद्रता कर चुका था। बच्ची ने किशोर की इस हरकत के बारे में परिवार वालों को भी बताया था। परिवार वालों ने बच्ची की बात को अनदेखा करते हुए इस मामले में किसी से कोई शिकायत नहीं की थी।
अब बच्ची की हत्या के बाद परिवार वाले इस बात को कह रहे हैं कि अगर उन लोगों ने समय रहते हुए किशोर की शिकायत पुलिस से की होती तो शायद आज यह घटना न होती। वहीं पुलिस को अपनी छानबीन में भी गांव से इस बात का पता चला है कि आरोपी किशोर मनबढ़ किस्म का है। फिलहाल पुलिस बच्ची के साथ दुराचार व हत्या जैसे जघन्य अपराध में किशोर की संलिप्तता की बात को खंगाल रही है।
सीओ मोहनलालगंज अलोक जयसवाल का कहना है कि बच्ची के शव को पोस्टमार्टम डाक्टरों के पैनल से कराया जायेगा और पोस्टमार्टम रिपोर्ट इस बात को तय करेगी कि बच्ची की हत्या कैसे हुई? अगवा कर खेत में घसीटे कर ले जाने की है संभावना मासूम बच्ची के शरीर पर मिले चोट के निशान इस बात की तरफ इशारा कर रहे हैं कि उसको जबरन खेत में घसीट कर ले जाया गया था और फिर उसके साथ हैवानियत की गयी। बच्ची के गले, सीने व शरीर पर कई जगह खरोच के निशान मिले हैं। खरोच के यह निशान इस बात की गवाही दे रहे हैं कि बच्ची ने खुद को बचाने के लिए आरोपी से काफी संघर्ष किया पर वह नाकाम रही। किशोर के घर के सामने पड़ी किशोरी की बोतल भी इस बात को दृशा रही है कि किशोरी को खेत में पहुंचने से पहले ही अगवा कर लिया गया। इस बीच किशोरी की पानी की बोतल वहीं गिर गयी। 
घटना से ग्रामीणों ने काफी गुस्सा आठ साल की मासूम बच्ची के साथ हैवानियत व हत्या से गांव वालों ने काफी आक्रोश है। बच्ची के परिवार वालों की किसी से कोई रंजिश नहीं थी। इसी के चलते गांव के लोग भी उसी किशोर को आरोपी मान रहे हैं, जिसको परिवार वालों ने नामजद किया है। गांव वालों में इस घटना के बाद काफी गुस्सा है। लोगों ने मौके पर पहुंची पुलिस से भी इस बात की मांग की है कि जल्द से जल्द आरोपी को गिरफ्तार किया जाये और उसको कड़ी सजा दिलायी जाये। 
 
 
 
 

You May Also Like

English News