आतंकवाद के खिलाफ हमेशा कड़ा रूख जारी रखेगा भारत: सुमित्रा महाजन

नयी दिल्ली: लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने उरी हमले में 17 सैनिकों के शहीद होने पर गहरा क्षोभ प्रकट किया और कहा कि देश एकजुट रहेगा तथा राज्य प्रायोजित आतंकवाद के खिलाफ अपनी लड़ाई में अंतरराष्ट्रीय समुदाय से भागीदारी जारी रखेगा।

भारत के लिए न्यूजीलैंड संसदीय मैत्री समूह द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा, ‘वसुधव कुटुंबकम का मुखर समर्थक भारत आतंकवाद के खिलाफ हमेश कड़ा रूख अपनाएगा।’ उधर, पाकिस्तान पर भारत के खिलाफ राज्य नीति के तौर पर आतंकवाद का इस्तेमाल करने का आरोप लगाते हुए केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज कहा कि मोदी सरकार देश के लोगों को आश्वस्त करना चाहेगी कि आतंकवाद के विरूद्ध शांति की लड़ाई में ‘‘आतंक और उसके सरगना’’ को तबाह कर दिया जाएगा।

 

कोलकाता से मिली खबर के मुताबिक, पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी ने जम्मू कश्मीर के उरी में सैन्य शिविर पर आतंकवादी हमले की निंदा की। उन्होंने श्रद्धांजलि दी और शहीदों के परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट की। मुंबई से प्राप्त समाचार के अनुसार महाराष्ट्र के राज्यपाल सी विद्यासागर राव ने उरी में आतंकी हमले में राज्य के शहीदों को श्रद्धांजलि दी। फगवाड़ा से आयी खबर के अनुसार पंजाब शिवसेना ने आज मांग की कि मोदी सरकार उरी आतंकी हमले के लिए पाकिस्तान के खिलाफ कड़ा कदम उठाए।

नयी दिल्ली में कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता आनंद शर्मा ने कहा कि आतंकी हमले को महज अग्रिम सैन्य शिविर पर हमले की तरह नहीं लेना चाहिए बल्कि यह भारत गणतंत्र पर हमला है। उन्होंने कहा कि यह हैरानी की बात है कि सरकार ने ऐसा नहीं कहा है। उधर, उरी हमले में शहीद हुए हवलदार रवि पॉल को श्रद्धांजलि देने जुटे जम्मू कश्मीर के सीमाई शहर सांबा के लोगों ने कहा कि यही वक्त है जब भारत को पाकिस्तान प्रायोजित ‘छद्म युद्ध’ के प्रति कड़ाई से जवाब दे।

You May Also Like

English News