आपके आधार कार्ड को लेकर आया सरकार का ये बड़ा फैसला

केंद्र सरकार इनकम टैक्स रिटर्न के लिए आधार नंबर को जरूरी करने जा रही है। इसके लिए फायनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली ने पार्लियामेंट में मंगलवार को फाइनेंस अमेंडमेंट बिल में इसका प्रपोजल रखा है।

अगर इसे संसद की मंजूरी मिल गई तो ये नियम 1 जुलाई से लागू हो जाएगा।  फाइनेंस अमेंडमेंट बिल के प्रपोजल के मुताबिक टैक्स रिटर्न फाइल करने के अलावा पैन कार्ड की एप्लीकेशन के लिए आधार नंबर जरूरी होगा। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक हर साल देश में ढाई करोड़ लोग पैन कार्ड के लिए एप्लाई करते हैं। वहीं, अब 25 करोड़ लोगों के पास पैन कार्ड इश्यू किए गए हैं।

अभी अभी: आई बड़ी ख़बर इस पार्टी के चार सबसे बड़े नेता की हुई हत्या, चारो तरफ़ मचा हाहाकार

PAN कार्ड आधार से लिंक न होने पर वैध नहीं होगा: इस प्रपोजल के मुताबिक, अगर पैन कार्ड आधार आइडेंटिटी से लिंक नहीं होगा तो उसे अवैध माना जाएगा। बता दें कि बेसिक फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन जैसे सैलरी के लिए PAN जरूरी है।

जरूरी करने से क्या फायदा होगा: सरकार और जानकारों का मानना है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को टैक्स के दायरे में लाने की कोशिश के तहत यह प्रपोजल रखा है। अब तक करीब 6 करोड़ लोग ही ऐसे हैं, जो इनकम टैक्स फाइल करते हैं। इन सभी के पास पैन कार्ड है।
वहीं, अब तक 111 करोड़ आधार नंबर अब तक जारी किए गए हैं। ऐसे में यदि इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए आधार नंबर जरूरी होगा तो लोगों पर नजर रखने में आसानी होगी।
आधार इन सर्विसेस में जरूरी: 1. ट्रेन टिकट बुकिंग में होने वाली फर्जीवाड़े और बल्क में होने वाली टिकट बुकिंग पर लगाम लगाने के लिए रेलवे आधार नंबर को जल्‍द ही जरूरी करने जा रहा है। इस सिस्‍टम के लागू होने के बाद बिना आधार नंबर के ऑनलाइन टिकट की बुकिंग नहीं हो पाएगी।
2. इसके अलावा सीनियर सिटिजंस के लिए 1 अप्रैल से कन्सेशन के लिए भी आधार नंबर मेंडेटरी किया गया है। फिलहाल इसे तीन महीने के ट्रायल के तौर पर लागू किया जाएगा।
3. प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत मुफ्त रसोई गैस कनेक्शन लेने के लिए आधार नंबर जरूरी है।
4. आधार नंबर अब तक नए सिम लेने, नया बैंक अकाउंट खोलने, सब्सिडी ट्रांसफर करने के लिए भी जरूरी है। इसके अलावा आधार एनेबल्ड पैमेंट सिस्टम के तहत बायोमेट्रिक बेस डिजिटल पेमेंट करने में भी इस्तेमाल किया जाता है।

You May Also Like

English News