आप भी जानिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मन की बात!

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को आकाशवाणी से मन की बात कार्यक्रम के 29वां संस्करण में इसरो की उपलब्धि को सराहते हुए कहा कि इससे देश का सिर ऊंचा हुआ है। इस दौरान उन्होंने डिजिटल पेमेंट को बढ़वा देने के लिए लोगों से अपील की कि वो कम से कम 125 लोगों को भीम ऐप डाउनलोड करना और उपयोग करना सिखाएं।

पीएम ने कहा कि मंगल ग्रह पर मंगलयान भेजने की कामयाबी के बाद अभी पिछले दिनों इसरो ने अन्तरिक्ष के क्षेत्र में एक विश्व रिकॉर्ड बनाया। इसरो ने मेगा मिशन के जरिए एक साथ विभिन्न् देशों जिसमें अमेरिका, इजराइल, कजाकिस्तान, नीदरलैंड, स्विट्जरलैंड, यूएई और भारत भी 104 सैटेलाइट अन्तरिक्ष में सफ लतापूर्वक लॉन्च किए हैं। एक.साथ 104 सैटेलाइटको अन्तरिक्ष में भेजकर इतिहास रचने वाला भारत दुनिया का पहला देश बन गया। ये भी खुशी की बात है कि यह लगातार 38वां टेस्ट का सफल लॉन्च है। यह न केवल इसरो के लियेए बल्कि पूरे भारत के लिये एक ऐतिहासिक उपलब्धि है। इसरो का यह कॉस्ट इपेक्टिव एफिशियंट स्पेस प्रोग्राम सारी दुनिया के लिये एक अजूबा बन गया है और विश्व ने खुले मन से भारत के वैज्ञानिकों की सफलता को सराहा है।

पीएम ने कहा कि इस उपलब्धि के पीछे एक महिला वैज्ञानिक ने योगदान दिया है जो कि गर्व का विषय है। इस दौरान पीएम ने बताया कि भारत द्वारा हाल ही में किए गए बैलेस्टिन मिसाइल का परिक्षण भी किया। यह मिसाइल जमीन से 100 किमी ऊपर ही दुश्मन की किसी मिसाइल को मारने में सक्षम है।
डिजिटल पेमेंट को प्रमोट करने के लिए बनाई गई स्कीमों का जिक्र करते हुए कहा कि सरकार की डिजि धन और लकी ग्राहक योजना का लोगों को लाभ मिला है। डिजि धन योजना के तहत 1500 करोड़ से ज्यादा रकम के इनाम दिए जा चुके हैं। इन स्कीमों के चलते अब तक करोंड़ों के पुरस्कार बांटे जा चुके हैं। डिजिटल पेमेंट का उपयोग करने से देश में भ्रष्टाचार और कालेधन पर लगाम लगाने में अहम है। भीम ऐप को लेकर पीएम ने कहा कि अप्रैल में बाबा साहेब अबेडकर की जयंति आ रही है और में इस ऐप का उपयोग कर रहे युवाओं से कहूंगा कि वो इसे उपयोग करने का तरीका कम से कम 125 लोगों का सिखाएं।
पीएम ने इसके बाद देश के किसानों का जिक्र करते हुए कहा कि इस साल फसल की बंपर पैदावार हुई है और इसके लिए किसानों को बधाई। किसानों ने कड़ी मेहनत करके अन्न के भंडार भर दिया हैं और सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। मेरी एक विनती को देश के किसानों ने सिर आंखों पर बैठाकर मेहनत की और दालों का रिकॉर्ड उत्पादन किया इसके लिए उनका धन्यवाद। इस वर्ष देश में लगभग 2 हज़ार 700 लाख टन से भी ज्यादा खाद्यान्न का उत्पादन हुआ है।
उन्होंने दिव्यांगों का जिक्र करते हुए कहा कि पिछले दिनों भारत की दिव्यांग क्रिकेट टीम ने ब्लाइंड टी20 क्रिकेट विश्वकप जीतकर साबित किया है कि वो किसी काम में पीछे नहीं हैं।

You May Also Like

English News