आमिर खान सुधारेंगे चीन और भारत के रिश्ते

 चीन ने गुरुवार को भारत-चीन के बीच व्यापार को बढ़ावा देने के लिए हिंदी फिल्म अभिनेता आमिर खान को ब्रांड एंबेसेडर नियुक्त करने की भारत की योजनाओं से जुड़ी खबरों का दिल खोलकर स्वागत किया. चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनफिंग ने बीजिंग में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा , ‘‘ मैंने आमिर से  संबंधित खबरें देखीं. हम सबको पता है कि आमिर खान एक मशहूर भारतीय अभिनेता हैं. बहुत सारे चीनी लोगों , जिनमें मैं भी शामिल हूं , ने उनकी फिल्म ‘दंगल’ देखी है.’’चीन: चीन ने गुरुवार को भारत-चीन के बीच व्यापार को बढ़ावा देने के लिए हिंदी फिल्म अभिनेता आमिर खान को ब्रांड एंबेसेडर नियुक्त करने की भारत की योजनाओं से जुड़ी खबरों का दिल खोलकर स्वागत किया. चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनफिंग ने बीजिंग में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा , ‘‘ मैंने आमिर से  संबंधित खबरें देखीं. हम सबको पता है कि आमिर खान एक मशहूर भारतीय अभिनेता हैं. बहुत सारे चीनी लोगों , जिनमें मैं भी शामिल हूं , ने उनकी फिल्म ‘दंगल' देखी है.’’   गौरतलब है कि आमिर की फिल्म ‘दंगल’ चीन में काफी लोकप्रिय हुई थी , यहां तक कि राष्ट्रपति शी ने भी फिल्म देखी. आमिर की एक और फिल्म ‘ सीक्रेट सुपरस्टार ’ भी चीन में काफी मशहूर हुई और बॉक्स ऑफिस पर कमाई के रिकार्ड भी तोड़े. कुछ खबरों में कहा गया कि वाणिज्य मंत्रालय दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार संबंधों को बढ़ावा देने की योजना बना रहा है.   चीन के वाणिज्य मंत्रालय के प्रवक्ता गाओ फेंग ने जानकारी देते हुए कहा कि साल 2017 के अंत तक भारत में चीन का निवेश करीब 532 अरब रुपये का आंकड़ा पार कर गया है. पहली तिमाही में दोनों देशों के बीच व्यापार 15.4 फीसद बढ़ा है. इस बढ़त के साथ दोनों देशों के बीच कारोबार करीब 1469.65 अरब रुपये पर पहुंच गया है. 

गौरतलब है कि आमिर की फिल्म ‘दंगल’ चीन में काफी लोकप्रिय हुई थी , यहां तक कि राष्ट्रपति शी ने भी फिल्म देखी. आमिर की एक और फिल्म ‘ सीक्रेट सुपरस्टार ’ भी चीन में काफी मशहूर हुई और बॉक्स ऑफिस पर कमाई के रिकार्ड भी तोड़े. कुछ खबरों में कहा गया कि वाणिज्य मंत्रालय दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार संबंधों को बढ़ावा देने की योजना बना रहा है. 

चीन के वाणिज्य मंत्रालय के प्रवक्ता गाओ फेंग ने जानकारी देते हुए कहा कि साल 2017 के अंत तक भारत में चीन का निवेश करीब 532 अरब रुपये का आंकड़ा पार कर गया है. पहली तिमाही में दोनों देशों के बीच व्यापार 15.4 फीसद बढ़ा है. इस बढ़त के साथ दोनों देशों के बीच कारोबार करीब 1469.65 अरब रुपये पर पहुंच गया है.

You May Also Like

English News