आसमान छूते पेट्रोल के दाम, डीजल ने भी तोड़ा रिकॉर्ड, जानिए क्या है आज का भाव

शनिवार को लगातार तीसरे दिन पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी हुई है. शनिवार को एक बार फिर राजधानी दिल्ली में पेट्रोल के दामों में 16 पैसे प्रति लीटर और डीजल के दामों में 21 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है. इस बढ़ोतरी के बाद दिल्ली में शनिवार को दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 78.68 प्रति लीटर मिलेगा. वहीं, डीजल के दामों 21 पैसे बढ़ गए हैं, जिसके बाद डीजल की कीमत 70.42 प्रति लीटर हो गई है.आसमान छूते पेट्रोल के दाम, डीजल ने भी तोड़ा रिकॉर्ड, जानिए क्या है आज का भाव

हाई लेवल पर पहुंचा डीजल
पिछले तीन दिनों से लगातार डीजल की कीमतों में इजाफा होने के कारण इसकी कीमतें अब तक के हाई लेवल पर पहुंच गई है. शुक्रवार को डीजल कीमतों में 28 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी होने के बाद कीमत 70.21 पर पहुंच गई थी. दिल्ली में इससे पहले 28 अगस्त को डीजल की कीमत 69.61 रुपए प्रति लीटर के हाई लेवल पर पहुंच गई थी. 

मुंबई में भी बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम
दिल्ली के अलावा आर्थिक राजधानी मुंबई में भी पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा हुआ है. मुंबई में पेट्रोल 16 पैसे की बढ़त के साथ 86.09 रुपए प्रति लीटर तो वहीं डीजल में 22 पैसे की बढ़ोतरी के साथ 74.76 प्रति लीटर रुपए पहुंच गया है. 

क्यों बढ़ रही पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी
बता दें कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में डॉलर के मुकाबले कमजोर होता रुपया और क्रूड की बढ़ती कीमतों से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में इजाफा हो रहा है. क्रूड की बढ़ती कीमतों के कारण भारतीय बाजारों में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा हो रहा है. 

अभी नहीं घटेंगे पेट्रोल और डीजल के दाम
एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड के रिसर्च (कमोडिटीज व करेंसी) के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता की मानें तो ब्रेंट क्रूड में 80 डॉलर प्रति बैरल और डब्ल्यूटीआई (अमेरिकी लाइट क्रूड) में 75 डॉलर प्रति बैरल का स्तर तक का उछाल देखने को मिल सकता है. इस प्रकार पेट्रोल और डीजल की कीमतें आगे और बढ़ सकती हैं. राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में शुक्रवार को फिर पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी हुई. दिल्ली में पेट्रोल 78.52 रुपये प्रति लीटर और डीजल 70.21 रुपये प्रति लीटर हो गया था.

15 साल पुरानी व्यवस्था हुई खत्म
पिछले साल जून में तेल कंपनियों ने हर महीने की पहली और 16 तारीख को तेल की कीमत में बदलाव करने वाली 15 साल पुरानी व्यवस्था को खत्म कर दिया था. उसकी जगह उन्होंने रोजाना कीमतों में बदलाव के तरीके को अपनाया.

You May Also Like

English News