इंग्लैंड का यह खिलाड़ी है सबसे खतरनाक, भारत को इससे रहना होगा बचकर

किरण वाईकर। भारत और इंग्लैंड के बीच तीन टी-20 मैचों की सीरीज कानपुर में 26 जनवरी से शुरू होगी। भारत भले ही टेस्ट और वन-डे सीरीज अपने नाम कर चुका है, लेकिन टी-20 में उसका इंग्लैंड के खिलाफ प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है। विराट कोहली की टीम इंडिया को इस तीन मैचों की सीरीज में इंग्लैंड के कप्तान इयोन मॉर्गन से बचकर रहना होगा क्योंकि टी-20 मैचों में वे भारत के खिलाफ धमाकेदार प्रदर्शन करते आए हैं।

इंग्लैंड का यह खिलाड़ी है सबसे खतरनाक, भारत को इससे रहना होगा बचकर

कोहली का सबसे चैलेंजिंग रिकार्ड तोड़, इस बल्लेबाज ने किया करिश्मा

इंग्लैंड ने पिछले दो टी-20 मैचों में भारत को हराया है और इन दोनों मैचों में उसे जीत दिलाने में 30 वर्षीय कप्तान मॉर्गन की अहम भूमिका रही है। वैसे भी मॉर्गन भारत के खिलाफ संपन्न वन-डे सीरीज में जबर्दस्त फॉर्म में थे, इसलिए यदि विराट की टीम को सबसे छोटे प्रारूप में जीत दर्ज करनी है तो उसे इंग्लिश कप्तान से जल्दी निजात पानी होगी।

कटक वन-डे में भारत का 382 रनों का विशाल लक्ष्य भी इंग्लैंड छोटा साबित कर देता। कप्तान मॉर्गन के शानदार शतक से मेहमान टीम जीत के करीब पहुंच गई थी। वो तो अच्छा हुआ कि 81 गेंदों में 6 चौकों और 5 छक्कों की मदद से 102 रन बनाकर मॉर्गन आउट हो गए अन्यथा इंग्लैंड अपनी सबसे बड़ी जीत दर्ज कर लेता।

मॉर्गन ने कोलकाता वन-डे में भी अपनी टीम की सांत्वना जीत में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने 42 गेंदों में 2 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 43 रन बनाते हुए टीम को 321 के मजबूत स्कोर तक पहुंचाया।

इंग्लैंड की पिछली दो टी20 जीत के हीरो मॉर्गन: भारत और इंग्लैंड के बीच हुए पिछले दोनों टी-20 मैचों में इंग्लैंड विजयी हुआ था और दोनों मैचों में मॉर्गन हीरो साबित हुए थे।

‘विराट सेना’ के लिए कानपुर में खास इंतजाम, सर्व होंगी ये डिशेज, तस्वीरें

मुंबई में दिलाई जीत: भारत ने 2012 में इंग्लैंड के खिलाफ 2 टी20 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाई थी। मुंबई में दूसरे मैच में भारत ने 8 विकेट पर 177 रन बनाए थे। कप्तान मॉर्गन ने छोटी किंतु तूफानी पारी खेलकर अपनी टीम को जीत दिलाई। वे 26 गेंदों पर 5 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 49 रनों की नाबाद पारी खेलकर टीम को जीत दिलाकर लौटे थे। इंग्लैंड को अंतिम अंतिम ओवर में जीत के लिए 9 रन चाहिए थे और अशोक डिंडा की अंतिम गेंद पर मॉर्गन ने छक्का लगाकर जीत दिलाई थी।

बर्मिंघम में मॉर्गन का तूफान: 7 सितंबर 2014 को बर्मिंघम में कप्तान इयोन मॉर्गन के विस्फोटक 71 रनों से इंग्लैंड ने 7 विकेट पर 180 रन बनाए थे। 75/3 की स्थिति में क्रीज पर उतरे मॉर्गन ने मात्र 31 गेंदों में 3 चौकों और 7 छक्कों की मदद से 71 रन बनाए। भारत 5 विकेट पर 177 रन ही बना पाया और इंग्लैंड ने यह मुकाबला 3 रनों से जीता था।

You May Also Like

English News