इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 के लिए टीम इंडिया में हुआ बड़ा बदलाव

आक्रामक लेग स्पिनर अमित मिश्रा और ऑफ स्पिन ऑलराउंडर परवेज रसूल को इंग्लैंड के खिलाफ तीन  टी-20 मैचों की क्रिकेट सीरीज के लिए टीम इंडिया में शामिल किया गया। सीनियर राष्टï्रीय क्रिकेट चयन समिति ने टीम प्रबंधन से सलाह मशविरा करने के बाद इस सीरीज के लिए पहले घोषित 15 सदस्यीय भारतीय टीम में शामिल धुरंधर स्पिन ऑलराउंडर अश्विन और रवीन्द्र जडेजा को आराम देकर सोमवार को उनकी जगह अमित मिश्रा और परवेज रसूल को टीम में लेने का फैसला किया। यह जानकारी भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने सोमवार को दी।

इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 के लिए टीम इंडिया में हुआ बड़ा बदलाव

भारत के पूर्व लेफ्ट आर्म स्पिनर के जम्मू-कश्मीर रणजी टीम का कोच रहते परवेज रसूल ने उनसे स्पिन की बारीकियां सीखीं। परवेज रसूल को इंग्लैंड के खिलाफ तीन टी-20 मैचों की सीरीज के लिए भारत की टीम में शामिल किए जाने पर बिशन बेदी ने अमर उजाला से कहा,  परवेज रसूल बेहद प्रतिभासम्पन्न क्रिकेटर हैं। वह बेहतरीन ऑफ स्पिनर तो हैं ही निचले क्रम के उपयोगी बल्लेबाज भी हैं। रसूल आला आलराउंडर हैं। रसूल ने इस मुकाम तक पहुंचने के लिए बहुत मेहनत की है। अब  उन्हें भारत की टी-20 टीम में शामिल करने पर अपनी प्रतिभा दिखाने का जो मौका मिला है, उन्हें इसे भुनाना होगा। वह मौका भुनाएंगे तो ही आगे जाएंगे। मैं विश्वास से कह सकता हूं रसूल प्रतिभाशाली होने के साथ जुझारू हैं।

भारत और इंग्लैंड वन-डे सीरीज के नाम दर्ज हुआ अनोखा विश्व रिकॉर्ड

जहां तक लेग स्पिनर अमित मिश्रा के टीम से बाहर-भीतर होने की बात है तो इसका आखिरी फैसला टीम प्रबंधन टीम संयोजन की जरूरत के मुताबिक करता है। अमित मिश्रा भी बढिय़ा लेग स्पिनर हैं लेकिन टीम इंडिया के लिए एक समय तो केवल 11 ही खिलाड़ी खेल सकते हैं। जहां तक रविचंद्रन अश्विन और रवीन्द्र जडेजा को टी-20 सीरीज के लिए इंग्लैड के खिलाफ आराम देने की बात है तो टीम इंडिया के लिए बेहतर संयोजन क्या होगा इसे टीम प्रबंधन ही बेहतर समझता है।
परवेज रसूल ने भारत के लिए अब तक केवल एक वन डे मैच जनवरी 2014 में  बांग्लादेश के खिलाफ खेला था और तब उन्होंने 60 रन देकर दो विकेट चटकाए थे।  परवेज रसूल को पहली बार भारत की टी-20 टीम में शामिल किया गया है। रसूल (3/38) ने इंग्लैंड के खिलाफ वार्म अप वन डे मैच में धारदार गेंदबाजी कर बेन स्टोक्स, जोस बटलर और क्रिस वॉक्स के विकेट चटकाकर इंडिया ए को छह विकेट से जीत दिलाई थी।  इंग्लैंड टीम में कई बाएं हाथ के बल्लेबाजों की मौजूदगी को देखते हुए परवेज रसूल के भारत की टी-20 एकादश में खेलने की संभावनाएं मजबूत हैं। 

मेहमान टीम का क्लीन स्वीप करने आज उतरेगी टीम इंडिया

 34 वर्षीय अमित मिश्रा ने भारत के लिए अंतिम टी-20 मैच वेस्ट इंडीज के खिलाफ पिछले साल अगस्त के आखिर में लाउडेरहिल में खेला था। वह 2014 के टी-20 विश्व कप में बांग्लादेश में भारत के दूसरे सबसे कामयाब गेंदबाज रहे थे। मेजबान भारत के लिए न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू वन डे सीरीज में अमित मिश्रा ने सबसे ज्यादा 15 विकेट लिए थे लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ रविवार को सम्पन्न वन डे सीरीज के लिए टीम में रहने के बावजूद उन्हें एक भी मैच में अंतिम एकादश में जगह नहीं मिल पाई थी। 

भारत की टी-20 टीम में पहले से लेग स्पिनर यजुवेंद्र चहल भी है लेकिन अब क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट -टेस्ट, वन डे और टी-20- में भारत की कप्तानी करने वाले विराट कोहली और मौजूदा चीफ कोच अपने जमाने के महान लेग स्पिनर अनिल कुंबले बतौर लेग स्पिनर अमित मिश्रा के मुरीद हैं।  बतौर लेग स्पिनर अमित मिश्रा अपनी फ्लाइट और बड़ी लेग स्पिन के साथ बीच में अचानक गुगली फेंक कर विकेट चटकाने का दम रखते हैं। आईपीएल में अपना डंका बजाया और वह दुनिया की इस सबसे बड़ी लीग में तीन हैट-ट्रिक  लेने वाले अकेले स्पिनर है। उनका यही प्रदर्शन उन्हें भारत की टी-20 में आखिर में जगह दिलाने का सबब बना। अब भारत की वन डे और टी-20 की कप्तानी से इस्तीफा देने वाले महेन्द्र सिंह धोनी का अमित मिश्रा पर भरोसा नहीं रहा और इस कारण वह टीम में रहने के बावजूद अंतिम 11 में जगह नहीं बना पा रहे थे।  जब धोनी की जगह भारत की वन डे टीम की कप्तान विराट को मिली तब अमित मिश्रा अंतिम एकादश में जगह पाने के साथ दमदार गेंदबाजी कर अपनी छाप छोडने में कामयाब रहे। विराट की टेस्ट टीम की कप्तानी संभालते ही इंग्लैंड के खिलाफ पिछले साल के आखिर में पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में वह पहले टेस्ट में राजकोट में और चेन्नै में पांचवें और आखिरी टेस्ट में खेले थे और इनमें उन्होंने पांच विकेट चटकाए थे। 

तीन  टी-20 मैचों की सीरीज के लिए टीम :
विराट कोहली (कप्तान), लोकेश राहुल, मनीष पांडे, ऋषभ पंत, सुरेश रैना, युवराज सिंह, महेन्द्र सिंह धोनी(विकेटकीपर),  मनदीप सिंह, हार्दिक पांडया, भुवनेश्वर कुमार, आशीष नेहरा, जसप्रीत बुमराह ,अमित मिश्रा, यजुवेंद्र चहल, परवेज रसूल।

You May Also Like

English News