इंग्लैंड में अकेले कार्तिक सभी भारतीय बल्लेबाजों पर भारी, जानें कैसे

इंग्लैंड की धरती पर चार साल बाद भारतीय टीम टेस्ट सीरीज खेलेगी. मौजूदा पांच टेस्ट मैचों की सीरीज की शुरुआत एक अगस्त को होगी, जब टीम इंडिया बर्मिंघम में इंग्लिश टीम का सामना करेगी.इंग्लैंड की धरती पर चार साल बाद भारतीय टीम टेस्ट सीरीज खेलेगी. मौजूदा पांच टेस्ट मैचों की सीरीज की शुरुआत एक अगस्त को होगी, जब टीम इंडिया बर्मिंघम में इंग्लिश टीम का सामना करेगी.  भारतीय टीम में इस दौरे के लिए सात विशेषज्ञ बल्लेबाजों के अलावा दो विकेटकीपर बेट्समैन को चुना गया है. इनमें से कई तो इंग्लैंड में टेस्ट खेलने का अनुभव रखते हैं, जबकि केएल राहुल, करुण नायर और ऋषभ पंत के लिए पहला मौका होगा.  वर्तमान भारतीय दल के जिन छह बल्लेबाजों ने इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज खेली है. उनके प्रदर्शन पर नजर डालें, तो चौंकाने वाले फैक्ट सामने आते हैं.  इन छह बल्लेबाजों में विराट कोहली, शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा, अजिक्य रहाणे, मुरली विजय और दिनेश कार्तिक शामिल हैं. इंग्लैंड में सबसे अच्छी बल्लेबाजी औसत की बात करें, तो दिनेश कार्तिक सबसे आगे हैं.  कोहली: सबसे खराब औसत  इंग्लैंड की धरती पर एकमात्र टेस्ट सीरीज का अनुभव रखने वाले कोहली को 2014 में रन बनाने के लिए जूझना पड़ा था. वह पांच टेस्ट मैचों की दस पारियों में 13.40 की औसत से 134 रन ही बना पाए थे. उनका उच्चतम स्कोर 39 रन था.  हालांकि 2014 के निराशाजनक दौरे के बाद विराट बहुत आगे बढ़ चुके हैं, बहुत कुछ बदल गया है. उन्होंने दुनियाभर में रन बनाए हैं. लेकिन, भारत को अगर इस बार इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज जीतनी है, तो कैप्टन कोहली का रन बनाने ही होंगे .  दिनेश कार्तिक: सबसे आगे  कमाल की बात तो यह कि बल्लेबाजी औसत में दिनेश कार्तिक सबसे आगे हैं. कार्तिक ने आखिरी बार 2007 में इंग्लैंड के खिलाफ उसकी धरती पर तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेली थी. भारत ने वह सीरीज 1-0 से जीती थी, जो इंग्लैंड की सरजमीं पर भारत की आखिरी सीरीज जीत भी है.  दिनेश कार्तिक ने तब तीनों टेस्ट मैचों में पारी की शुरुआत की थी. उन्होंने जेम्स एंडरसन, रेयान साइडबॉटम और क्रिस ट्रेमलेट जैसे गेंदबाजों के आगे सभी टेस्ट मैंचों में अर्धशतक जमाए थे. कार्तिक ने 43.83 की औसत से 263 रन बनाए, जिसमें उनके तीन अर्धशतक शामिल रहे. उनका उच्चतम स्कोर 91 रहा था.  रहाणेः लॉर्ड्स में शतक  2014 के दौरे में चेतेश्वर पुजारा ने 22.20 की औसत से 222 रन बनाए थे. उनका उच्चतम स्कोर 55 रहा था. अजिंक्य रहाणे मौजूदा भारतीय टीम के ऐसे दो बल्लेबाजों में शामिल हैं, जिनके नाम इंग्लैंड में टेस्ट शतक है. रहाणे ने 2014 दौरे में लॉर्ड्स में विजयी शतक (103 रन) जमाया था. रहाणे ने उसे दौर में 33.22 के एवरेज से 299 रन बनाए थे.  मुरली विजय: सबसे सफल  सलामी बल्लेबाज मुरली विजय 2014 की सीरीज में सबसे सफल भारतीय बल्लेबाज रहे. विजय ने उस दौरे में 40.20 की औसत से 402 रन बनाए थे. उन्होंने दौरे के पहले दो टेस्ट मैचों में शानदार बल्लेबाजी की. पहले टेस्ट में विजय ने 146 रन बनाए. लॉर्ड्स में खेले गए अगले टेस्ट के दौरान भारत की जीत में उन्होंने 95 रनों की बेशकीमती पारी खेली थी.

भारतीय टीम में इस दौरे के लिए सात विशेषज्ञ बल्लेबाजों के अलावा दो विकेटकीपर बेट्समैन को चुना गया है. इनमें से कई तो इंग्लैंड में टेस्ट खेलने का अनुभव रखते हैं, जबकि केएल राहुल, करुण नायर और ऋषभ पंत के लिए पहला मौका होगा.

वर्तमान भारतीय दल के जिन छह बल्लेबाजों ने इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज खेली है. उनके प्रदर्शन पर नजर डालें, तो चौंकाने वाले फैक्ट सामने आते हैं.

इन छह बल्लेबाजों में विराट कोहली, शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा, अजिक्य रहाणे, मुरली विजय और दिनेश कार्तिक शामिल हैं. इंग्लैंड में सबसे अच्छी बल्लेबाजी औसत की बात करें, तो दिनेश कार्तिक सबसे आगे हैं.

इंग्लैंड की धरती पर एकमात्र टेस्ट सीरीज का अनुभव रखने वाले कोहली को 2014 में रन बनाने के लिए जूझना पड़ा था. वह पांच टेस्ट मैचों की दस पारियों में 13.40 की औसत से 134 रन ही बना पाए थे. उनका उच्चतम स्कोर 39 रन था.

हालांकि 2014 के निराशाजनक दौरे के बाद विराट बहुत आगे बढ़ चुके हैं, बहुत कुछ बदल गया है. उन्होंने दुनियाभर में रन बनाए हैं. लेकिन, भारत को अगर इस बार इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज जीतनी है, तो कैप्टन कोहली का रन बनाने ही होंगे .

कमाल की बात तो यह कि बल्लेबाजी औसत में दिनेश कार्तिक सबसे आगे हैं. कार्तिक ने आखिरी बार 2007 में इंग्लैंड के खिलाफ उसकी धरती पर तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेली थी. भारत ने वह सीरीज 1-0 से जीती थी, जो इंग्लैंड की सरजमीं पर भारत की आखिरी सीरीज जीत भी है.

दिनेश कार्तिक ने तब तीनों टेस्ट मैचों में पारी की शुरुआत की थी. उन्होंने जेम्स एंडरसन, रेयान साइडबॉटम और क्रिस ट्रेमलेट जैसे गेंदबाजों के आगे सभी टेस्ट मैंचों में अर्धशतक जमाए थे. कार्तिक ने 43.83 की औसत से 263 रन बनाए, जिसमें उनके तीन अर्धशतक शामिल रहे. उनका उच्चतम स्कोर 91 रहा था.

रहाणेः लॉर्ड्स में शतक

2014 के दौरे में चेतेश्वर पुजारा ने 22.20 की औसत से 222 रन बनाए थे. उनका उच्चतम स्कोर 55 रहा था. अजिंक्य रहाणे मौजूदा भारतीय टीम के ऐसे दो बल्लेबाजों में शामिल हैं, जिनके नाम इंग्लैंड में टेस्ट शतक है. रहाणे ने 2014 दौरे में लॉर्ड्स में विजयी शतक (103 रन) जमाया था. रहाणे ने उसे दौर में 33.22 के एवरेज से 299 रन बनाए थे.

मुरली विजय: सबसे सफल

सलामी बल्लेबाज मुरली विजय 2014 की सीरीज में सबसे सफल भारतीय बल्लेबाज रहे. विजय ने उस दौरे में 40.20 की औसत से 402 रन बनाए थे. उन्होंने दौरे के पहले दो टेस्ट मैचों में शानदार बल्लेबाजी की. पहले टेस्ट में विजय ने 146 रन बनाए. लॉर्ड्स में खेले गए अगले टेस्ट के दौरान भारत की जीत में उन्होंने 95 रनों की बेशकीमती पारी खेली थी.

You May Also Like

English News