इंटरनेट के बाद अब TV विज्ञापनों से Facebook करने वाला है आपकी जासूसी?

Facebook ने हाल ही में अमेरिकी पेटेंट ऑफिस में एक ऐसा नया स्पाई प्रोग्राम पेटेंट के लिए दाखिल किया है जिसके अंतर्गत TV पर आने वाले विज्ञापनों में वह ऐसी छिपी हुई ऑडियो क्लिप्स डालेगा जिनके द्वारा दर्शकों की विज्ञापनों से जुड़ी हैबिट्स और बातचीत को कंपनी जान और सुन सकेगी। मेट्रो वेबसाइट की स्‍पेशल रिपोर्ट के मुताबिक इस ऑडियो क्लिप द्वारा Facebook यह जानने की कोशिश करेगी कि TV दर्शक किस कंपनी का विज्ञापन देख रहे हैं, पसंद कर रहे हैं, उस पर बातचीत कर रहे हैं या फिर उसे बिल्‍कुल ही नापसंद कर रहे हैं।

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक Facebook ने अपने एक नए स्पाई प्रोग्राम यानी सिस्टम को लेकर एक पेटेंट आवेदन दाखिल किया है जो बताता है कि कंपनी टीवी विज्ञापनों में एक ऐसी साउंड क्लिप इंसर्ट करना चाहती है जिससे दर्शक सुन नहीं सकेंगे क्योंकि उनकी साउंड पिच बहुत हाई होगी, लेकिन यह फ्रीक्वेंसी दर्शकों के स्मार्टफोन को वहां की ऑडियो रिकॉर्डिंग करने को मजबूर कर देगी।

इसका फायदा यह होगा कि Facebook उन ऑडियो रिकॉर्डिंग्स के द्वारा यह जान सकेगी कि अलग-अलग देशों, शहरों के घरों में मौजूद लोग किस कंपनी के टीवी विज्ञापन देखना पसंद कर रहे हैं, उन पर चर्चा कर रहे हैं या फिर नहीं देख रहे हैं। इस जानकारी से फेसबुक दुनिया भर के तमाम विज्ञापनदाताओं को लाभ पहुंचाने का काम कर सकती है। कुल मिलाकर हम यह कह सकते हैं कि Facebook इंटरनेट पर अपने प्लेटफार्म के द्वारा यूजर्स की जासूसी करने के बाद अब TV विज्ञापनों द्वारा भी यूजर्स की हैबिट, उनकी पसंद नापसंद को ट्रैक करने की कोशिश करने का प्‍लान बना रहा है।

You May Also Like

English News