इंडोनेशिया में आया भूकंप, 10 मौतें

इंडोनेशिया के लोकप्रिय पर्यटनस्थल लोम्बोक में रविवार को 6.4 तीव्रता का भूकंप आया और इस भूकंप की वजह से कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई और तक़रीबन 40 लोग घायल हो गए. इसका केंद्र लंबोक के मताराम से 50 किलोमीटर पूर्वोत्तर में स्थित था जिसकी आबादी 3,19,000 है.इंडोनेशिया के लोकप्रिय पर्यटनस्थल लोम्बोक में रविवार को 6.4 तीव्रता का भूकंप आया और इस भूकंप की वजह से कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई और तक़रीबन 40 लोग घायल हो गए. इसका केंद्र लंबोक के मताराम से 50 किलोमीटर पूर्वोत्तर में स्थित था जिसकी आबादी 3,19,000 है.  जब डॉग 'मैक्डोना' ने दिए सिंगर 'मडोना' जैसे पोज    यहाँ की स्थानीय मीडिया के अनुसार भूकंप सुबह 6 बजकर 47 मिनट पर आया और इसका केंद्र लंबोक के मताराम से 50 किलोमीटर पूर्वोत्तर में स्थित बताया जा रहा है. जिसकी आबादी 3 लाख 19,000 है. लोकप्रिय गिली द्वीप समूह रिसॉर्ट्स के प्रवेश द्वार सेन्गगिगी में भी पर्यटकों ने भूकंप के शक्तिशाली झटके महसूस किए. यहाँ पर भूकंप की वजह से भूस्खलन की आशंका को देखते हुए माउंट रिंजानी पर हाइकिंग ट्रेल बंद कर दिया गया है.  इंटरनेशनल टाइगर डे: बाघ भूखा भी हो, तो भी घास नहीं खाता    इंडोनेशिया की आपदा प्रबंधन एजेंसी के अनुसार कई इमारते क्षतिग्रस्त हुई हैं. इंडोनेशिया आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पुरवो नुग्रोहो ने बताया, ‘‘भूकंप की वजह से 10 लोगों की मौत हो गई और 40 लोग घायल हो गए. वहीं, इससे दर्जनों घरों को नुकसान पहुंचा है. आगे कहा हमारा अनुमान है कि घायलों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि हमारे पास अभी पूरे आंकड़े उपलब्ध नहीं हैं.

यहाँ की स्थानीय मीडिया के अनुसार भूकंप सुबह 6 बजकर 47 मिनट पर आया और इसका केंद्र लंबोक के मताराम से 50 किलोमीटर पूर्वोत्तर में स्थित बताया जा रहा है. जिसकी आबादी 3 लाख 19,000 है. लोकप्रिय गिली द्वीप समूह रिसॉर्ट्स के प्रवेश द्वार सेन्गगिगी में भी पर्यटकों ने भूकंप के शक्तिशाली झटके महसूस किए. यहाँ पर भूकंप की वजह से भूस्खलन की आशंका को देखते हुए माउंट रिंजानी पर हाइकिंग ट्रेल बंद कर दिया गया है.

इंडोनेशिया की आपदा प्रबंधन एजेंसी के अनुसार कई इमारते क्षतिग्रस्त हुई हैं. इंडोनेशिया आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पुरवो नुग्रोहो ने बताया, ‘‘भूकंप की वजह से 10 लोगों की मौत हो गई और 40 लोग घायल हो गए. वहीं, इससे दर्जनों घरों को नुकसान पहुंचा है. आगे कहा हमारा अनुमान है कि घायलों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि हमारे पास अभी पूरे आंकड़े उपलब्ध नहीं हैं.

You May Also Like

English News