ट्रेन हादसा: मरने वालों की संख्या हुई 100, राज्यों ने किया मुआवजे का एेलान

कानपुर। कानपुर के पास स्थि‍त पुखराया में इंदौर-पटना एक्सप्रेस के 14 डिब्बे पटरी से उतरने के बाद अब तक इस हादसे में मरने वालों की संख्या 100 तक पहुंच गई है वहीं 150 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं। हादसे के बाद रेलमंत्री दुर्घटनास्‍थल का दौरा करेंगे वहीं केंद्र के अलावा केंद्र और राज्य सरकारों ने भी मुआवजे का ऐलान किया है।

kanpur-train-accident_1479621202

फिलहाल राहत और बचाव कार्य जारी है और हादसे में मरने वालों की संख्‍या बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। रेल राज्‍यमंत्री मनोज सिन्‍हा दुर्घटनास्‍थल का जायजा लेने पुखराया पहुंच चुके हैं।

मुआवजे का ऐलान करते हुए मंत्रालय ने कहा है कि हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 3.5 लाख रुपए, गंभीर रूप से घायल लोगों को 50 हजार रुपए और आंशिक रूप से घायल लोगों को 25 हजार रुपए का मुआवजा दिया जाएगा।

वहीं यूपी सरकार ने भी मुआवजे का ऐलान करते हुए कहा है कि हादसे में मरने वालों के परिवार को 5 लाख रुपए, गंभीर घायलों को 50 हजार और आंशिक घायलों को 25 हजार रुपए दिए जाएंगे। मध्‍य प्रदेश सरकार ने मृतकों के परिजनों को दो लाख रुपए और गंभीर रूप से घायल लोगों को 50 हजार रुपए देने का ऐलान किया है।

कानपुर रेंज के आईजी जकी एहमद ने एक बयान में कहा है कि राहत-बचाव कार्य जारी है और अब तक 96 शव निकाले जा चुके हैं। इस हादसे में GS, A1, B1, B2, B3, BE, S1, S2, S3, S4, S5, S6 कोच को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है।सबसे ज्‍यादा नुकसान ट्रेन की एस-1 और एस-2 बोगियों को पहुंचा है।

हादसा रविवार अल सुबह 3.10 बजे हुआ। जानकारी के एक्सप्रेस ट्रेन कानपुर झांसी रेल खंड के पुखरायां रेलवे स्टेशन के आगे दलेल नगर रेलवे क्रासिंग पर पटरी से उतर गई। हादसे में अब तक 96 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है। आशंका जताई जा रही है कि मरने वालों की संख्‍या बढ़ सकती है। पुलिस के अनुसार दुर्घटना के कारणों का फिलहाल खुलासा नहीं हो पाया है लेकिन घायलों को निकालकर अस्‍पताल भेजने का काम जारी है।

फिलहाल राहत और बचाव कार्य जारी है और डिब्‍बों को काटकर घायलों को निकाला जा रहा है। बताया जा रहा है कि ट्रेन में ज्‍यादातर एसी और स्‍लीपर क्‍लास के डिब्‍बे क्षतिग्रस्‍त हुए हैं।

ऐसे लगा जैसे भूकंप आया

हादसे के बाद एक चश्‍मदीद के अनुसार हादसे के वक्‍त सभी सो रहे थे। ट्रेन पहले तो रूकी और फिर अचानक तेज रफ्तार से चलने लगी। कुछ ही देर में ऐसा लगा भूकंप आया और फिर चीख-पुकार मच गई। हमारे ही डिब्‍बे में 20-25 लोग मारे गए हैं।

गृहमंत्री ने एनडीआरएफ भेेजने के दिए आदेश, सुरेश प्रभु भी करेंगे दौरा

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने राहत और बचाव कार्य में मदद के लिए एनडीआरएफ की टीम भेजने के आदेश दिए हैं जो वहां पहुंच चुकी है। इसके अलावा स्थिति पर नजर रखने के लिए रेल राज्‍यमंत्री मनोज सिन्‍हा भी मौके के लिए रवाना हो चुके हैं। वहीं रेल मंत्री सुरेश प्रभु भी दुर्घटनास्‍थल का दौरा करेंगे।

हेल्‍पलाइन नंबर जारी

हादसे के बाद रेलवे ने हेल्‍पलाइन नंबर जारी किए हैं जिन पर फोन लगाकर लोग जानकारी हासिल कर सकते हैं।

झांसी – 05101072

औराया – 051621072

इंदौर- 07411072

उज्‍जैन-07342560906

रतलाम- 074121072

औराई- 051621072

पुखराया- 05113270239

कानपुर – 05131072

इलाहाबाद – 05321072

रेलमंत्री ने कहा जिम्‍मेदारों को छोड़ेंगे नहीं

हादसे के बाद रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने ट्वीट कर जानकारी दी की दुर्घटनास्‍थल पर सभी तरह की राहत पहुंचाई जा रही है। साथ ही उन्‍होंने पीड़‍ितों को मुआवजे देने की घोषणा के साथ ही हादसे के लिए जिम्‍मेदार लोगों पर कड़ी कार्रवाई की बात कही है।

कई ट्रेनें रद्द

हादसे के बाद रेलवे ने 11109 झांसी-लखनऊ इंटरसिटी और 51803 झांसी-कानपुर पैसेंजर ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं।

12542 और 12522 आगरा और कानपुर के रास्ते चलेंगी।

12541 भीमसेन, बांदा, इटारसी होकर चलेगी।

12534 को ग्वालियर और इटावा होकर चलाया जाएगा।

You May Also Like

English News