इजरायली पीएम नेतन्याहू और मोदी आज करेंगे द्विपक्षीय वार्ता

इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू को प्रोटोकॉल तोड़कर कर पीएम मोदी ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। इसके बाद दिल्ली के ऐतिहासिक तीन मूर्ती चौक को ‘हाइफा’ नाम से जोड़कर दोनों देशों के रिश्तों को और मजबूती दी। रात के शानदार डिनर के बाद आज दोनों प्रधानमंत्रियों के बीच द्विपक्षीय बातचीत होगी। इससे पचीस सालों के दोनों देशों में रिश्ते और मजबूत होंगे।

नेतन्याहू अपनी भारत यात्रा में अब तक के सबसे बड़े प्रतिनिधिमंडल के साथ पहुंचे हैं। दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय वार्ता और प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता आज हैदराबाद हाउस में होगी। रविवार की शाम विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने नेतन्याहू से मुलाकात की। अपनी इस यात्रा के दौरान नेतन्याहू मंगलवार को आगरा में ताजमहल का दीदार करने के बाद अहमदाबाद और मुंबई भी जाएंगे। 

तेल और गैस क्षेत्र में निवेश

भारत और इजरायल के बीच पहली बार तेल और गैस क्षेत्र में निवेश होने की संभावना है। तकनीकी क्षेत्र में बेहतर समझा जाने वाला इजरायल रिन्यूवेबल एनर्जी में भारतीय कंपनियों को तकनीकी फायदा देगा, इसके लिए भी समझौता होने की उम्मीद है।

उड्डयन क्षेत्र में कई समझौते

दोनों देशों के बीच उड्डयन क्षेत्र को लेकर भी कई समझौते हो सकते हैं, 2017 में पीएम मोदी के इजरायल दौरे के दौरान हुए साइबर सिक्‍योरिटी समझौते को और व्‍यापाक बनाने की कोशिश होगी और दोनों देशों के रिश्तों में पहले से ज्यादा मजबूती आएगी। 

फिल्मों की शूटिंग को मिलेगा बढ़ावा

अंतरिक्ष शोध और औद्योगिक रिसर्च को लेकर भी भारत और इजरायल के बीच दो नए समझौते होने हैं और तो और भारत-इजरायल के बीच फिल्मों की शूटिंग को बढ़ावा देने को लेकर भी समझौते हो सकते हैं। निवेशकों को बढ़ावा देने और सुरक्षा के मामले पर भी दोनों देश साथ आएंगे। 

अपने मुंबई दौरे पर पीएम नेतन्याहू 2008 मुंबई हमले पर रखे गए एक कार्यक्रम का भी हिस्सा होंगे। भारत इजरायली हथियारों का बड़ा खरीदार देश है। बता दें कि 2016 में भारत ने इजरायल से 59.9 करोड़ डॉलर के हथियार खरीदे थे। 

फलस्तीन पर भी होगी बात

आज पीएम मोदी और नेतन्याहू की बातचीत कई मामले में बेहद अहम होगी। इजरायल खासतौर पर फलस्तीन के मुद्दे पर भारत का रुख टटोलेगा। यरुशलम को इजरायल की राजधानी बनाने का संयुक्त राष्ट्र में भारत की ओर से विरोध किए जाने के बाद दोनों देशों के बीच शीर्ष स्तर पर यह पहली मुलकात होगी। दूसरी ओर भारत की निगाहें इजरायल से कृषि और रक्षा क्षेत्र की अहम तकनीक हासिल करने पर होगी।

सात स्तरीय सुरक्षा घेरे में रहेंगे नेतन्याहू

नेतन्याहू की सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। वह मुंबई से इजरायल रवाना होने से पूर्व लगातार सात सदस्यीय सुरक्षा घेरे में रहेंगे। मुख्य सुरक्षा घेरा इजरायल का होगा।

कल करेंगे ताज का दीदार
नेतन्याहू मंगलवार को दुनिया के सात अजूबों में शामिल ताजमहल का दीदार करने आगरा जाएंगे। इसके लिए वह 10 बजे पूर्वाहन आगरा के लिए रवाना होंगे और करीब 4 घंटे इस शहर में बिताने के बाद अपराहन तीन बजे दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे। इसी दिन नेतन्याहू शाम में अहमदाबाद के लिए रवाना होंगे।

 

You May Also Like

English News