अभी-अभी: योगी के मंत्री बोले- अगर ऐसा हुआ तो हो सकती है इन बड़े मंत्रियों की हत्या….

योगी आदित्यनाथ का खौफ अधिकारियों में ही नहीं, उनके मंत्रियों में भी है। इसी खौफ में वो क्या कह जा रहे हैं, खुद नहीं जानते। शुक्रवार को झांसी में  खाद्य और रसद मंत्री अतुल गर्ग ने मीडिया से बातचीत में कहा, अगर अब किसी किसान ने आत्महत्या की तो योगी हम जैसे न जाने कितनों की हत्या कर देंगे।

अभी-अभी: योगी के मंत्री बोले- अगर ऐसा हुआ तो हो सकती है इन बड़े मंत्रियों की हत्या....

हालांकि, उन्होंने ये बात मजाकिया लहजे में कही। दरअसल, शुक्रवार को गर्ग झांसी की कई मंडी समिति का इंस्पेक्शन करने पहुंचे थे। इंस्पेक्शन के बाद वे मीडिया से मुखात‍िब हुए। 
हत्या से मतलब राजनीति की हत्या: मीड‍िया से बातचीत के दौरान गर्ग से आत्महत्या कर रहे किसानों के बारे में सवाल पूछा गया। इस पर मंत्री जी ने कहा कि पहले कैमरा बंद कर लो। इसके बाद उन्होंने कहा कि आत्महत्या तो बहुत दूर की बात है, क्योंकि अगर अबकी बार किसी किसान ने ऐसा किया तो हम जैसे की कई लोगों की योगी हत्या कर देंगे, समझे भाई। हत्या से मतलब राजनीति की हत्या हो जाएगी और ये हंसकर कहते हुए मंत्री जी चले गए।
योगी सरकार ने किया था किसानों का कर्जमाफ: बता दें, योगी सरकार ने 4 अप्रैल को हुई अपनी पहली कैबिनेट मीटिंग में 2 करोड़ 15 लाख किसानों के एक लाख रुपए तक का कर्ज माफ किया था। गेहूं खरीद पर सरकार ने कहा था- इस बार बंपर फसल हुई है। 7 हजार गेहूं खरीद केंद्र बनाए जाएंगे। 80 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदा जाएगा।
4 अप्रैल को लिए गए थे ये 9 फैसले: 1-यूपी में करीब 2 करोड़ 30 लाख किसान हैं। लघु और सीमांत किसानों के 1 लाख तक के फसल पर लिए गए कर्ज माफ किए जाएंगे। इससे 2.15 करोड़ किसानों को राहत मिलेगी। कुल 36,359 करोड़ का कर्ज माफ।
2-गेहूं खरीद के लिए 5 हजार केंद्र खुलेंगे। 2 फेज में 80 लाख मीट्रिक टन खरीद होगी। 2500 एमएसपी के अलावा 10 रुपए प्रति क्व‍िंटल लदाई-ढुलाई के लिए दिए जाएंगे। पैसा सीधे किसान के अकाउंट में ट्रांसफर होगा। 
3-एंटी रोमियो स्क्वॉड को ऑर्डर। बेवजह किसी को परेशान किया तो पनिशमेंट के लिए तैयार रहें। 
4-आलू खरीद के लिए केशव प्रसाद मौर्य की चेयरमैनशिप में तीन लोगों की कमेटी बनाई गई। किसानों को राहत देने पर फैसला यही लेगी।
5-नई इन्वेस्टमेंट और इंडस्ट्रियल पॉलिसी बनेगी। इसके लिए बनाई गई कमेटी में डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा और 4 अन्य मंत्री होंगे। 
6- इलीगल माइनिंग को रोका जाएगा। इसके लिए केशव प्रसाद मौर्य की अध्यक्षता में एक कमेटी सुझाव देगी।
7-गाजीपुर में स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स बनाया जाएगा। बजट तय नहीं लेकिन करीब 200 करोड़ रुपए खर्च हो सकते हैं। 
8-26 अवैध स्लॉटर हाउस बंद किए गए हैं। जिन्होंने लाइसेंस के लिए अप्लाई किया है, उन्हें जांच के बाद ये दिया जा सकता है। 
9-राज्य पिछड़ा आयोग जिसे अब तक संवैधानिक दर्जा प्राप्त नहीं था, उसे पीएम ने मंजूरी दी है। पीएम को सरकार की तरफ से धन्यवाद प्रस्ताव भेजा जाएगा।
योगी सरकार के सत्ता में आने के बाद लिए गए कुछ बड़े फैसले: * सीएम योगी ने अपने पहले आदेश में तमाम मंत्रियों को संपत्ति का ब्योरा देना को कहा। साथ ही, अफसरों को भी संपत्ति का पूरा ब्योरा सीएम ऑफिस को देने को कहा गया।
* राज्य में अवैध बूचड़खानों पर नकेल कसी गई। इससे गोहत्या की रोकथाम होने की बात कही गई है।
* महिलाओं को छेड़छाड़ से बचाने और उनकी सुरक्षा के लिए एंटी रोमियो स्क्वॉड का गठन किया गया।
* राज्य में सरकारी डि‍पार्टमेंट्स में वर्किंग ऑवर्स के दौरान पान-गुटखा खाने पर रोक लगाई और प्लास्टिक के इस्तेमाल पर भी रोक लगाई गई।
* योगी ने अपने मंत्रियों को आदेश दिया कि कोई मंत्री अनाप-शनाप बयानबाजी नहीं करेगा। इसके लिए सरकार के 2 प्रवक्ता अप्वाइंट किए गए हैं, जो मीडिया तक सरकार की बात पहुंचाएंगे।
* योगी सरकार ने यूपी के तमाम थानों, पुलिस चौकियों और पुलिस लाइन्स में साफ-सफाई करने का आदेश दिया।
*गोमती रिवर फ्रंट घोटाले की जांच के आदेश दिए।

You May Also Like

English News