इन मुख्य 5 मुद्दों को लाल किले के भाषण में शामिल कर सकते हैं पीएम मोदी…

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने कार्यकाल की चौथी इंडिपेंडेंस डे स्पीच अब से कुछ घंटों में देंने जा रहे हैं. इस बार की पीएम मोदी की स्पीच बेहद अहम होगी क्योंकि अपने पिछले मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा है कि इंडिपेंडेंस डे की उनकी स्पीच देश के 125 करोड़ नागरिकों की आवाज होगी.

इन मुख्य 5 मुद्दों को लाल किले के भाषण में शामिल कर सकते हैं पीएम मोदी...

इस स्पीच में मुद्दों को शामिल करने के लिए उन्होंने आम आदमी की राय मांगी है. जिसके बाद से लगातार सोशन मीडिया अथवा अन्य मीडिया साधनों से लाखों की संख्या में लोगों की राय उन तक पहुंच रही है.पीएम मोदी अपनी वेससाइट के जरिए भी देश के नागरिकों से अपील कर चुके हैं कि वह देश हित में अपने विचार साझा करें और नए भारत के उदय में अपनी सहभागिता को दर्ज कराएं.

ऐसे में किन मुद्दों पर पीएम मोदी लाल किले के प्राचीर से अपनी राय रख सकते हैं? क्या देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी अपने भाषण में नोटबंदी की हकीकत बयान करेंगे, या फिर वह देश के सबसे बड़े टैक्स सुधार जीएसटी से होने वाले फायदे और दिक्कतों पर अपनी बात कहेंगे? इसके अलावा बीते तीन साल के अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने देश में कालेधन के खिलाफ क्या कड़े कदम उठाए हैं या फिर वह सरकार और कारोबार में पार्दर्शिता लाने के लिए और क्या कदम उठा सकते हैं?

1. नोटबंदी की हकीकत

केन्द्र सरकार द्वारा नवंबर 2016 में लागू की गई नोटबंदी का असर अर्थव्यवस्था पर अब साफ दिखने लगा है. सरकार और रिजर्व बैंक के आंकड़ों में भी दिखाई दे रहा है कि अभीतक नोटबंदी ने आर्थिक आंकड़ों को नुकसान ही पहुंचाया है. ऐसे में लाल किले से पीएम मोदी नोटबंदी के पक्ष में कुछ अहम बयान दे सकते हैं.

2. जीएसटी से बना वन नेशन, कैसे होगा कारोबार

1 जुलाई 2017 से पूरे देश में एक समान टैक्स प्रक्रिया लागू करने के लिए जीएसटी का चुनाव किया गया. इसक कदम से माना जा रहा है कि केन्द्र सरकार के खजाने के साथ-साथ देश के कारोबार को नया आयाम मिलेगा. गौरतलब है कि जिएसटी से सरकार को होने वाला इजाफा आम आदमी के लिए किसी लोकलुभावन स्कीम की शुरुआत कर सकता है जिसकी घोषणा पीएम मोदी लाल किले से कर सकते हैं.

3. क्या आएगा कालाधन

 देश में कारोबार के साथ-साथ सरकार के कामकाज में पार्दर्शिता लाने के लिए कई अहम कदम उठाए गए हैं. वहीं मोदी सरकार ने मनीलॉन्डरिंग रोकने के लिए भी कई अहम फैसले लिए हैं. क्या इन फैसलों से देश में कालेधन पर लगाम लगाने में कोई मदद मिली, इस आशय भी पीएम मोदी लाल किले से कुछ अहम कह सकते हैं.

4. सबके लिए घर की योजना

पीएम मोदी ने 2022 तक देश में सभी के लिए घर बनाने की योजना शुरू की है. वहीं बीते तीन साल के दौरान रियल एस्टेट सेक्टर मंदी का शिकार है. सेक्टर में रेरा जैसे नए प्रावधान और कालेधन पर लगाम के बाद माना जा रहा है कि आम आदमी के लिए घर खरीदने का सपना पूरा करना आसान हो जाएगा. अपने लाल किले के भाषण में पीएम मोदी देशभर में चल रही सबके लिए घर योजना को अपने भाषण में शामिल कर सकते हैं.

5. मुफ्त इलाज का क्या है आधार

केन्द्र सरकार ने आम आदमी को स्वास्थ और शिक्षा की सुविधा बेहतर और मुफ्त देने का वादा किया है. इसमें स्वास्थ सुविधाओं पर केन्द्र सरकार अहम फैसले ले चुकी है. जहां तक बड़े शहरों में बड़े अस्पताल की बात है, केन्द्र सरकार ने मरीजों का रजिस्ट्रेशन, ओपीडी में डॉक्टर अलॉट करने, जरूरी मेडिकल टेस्ट और इलाज करने के लिए पार्दर्शिता से भरी ऑनलाइन व्यवस्था को लागू किया है. लेकिन देश में एक आम आदमी को स्वास्थ सुविधा के लिए इतना पर्याप्त नहीं है. लिहाजा अब केन्द्र सरकार की कोशिश है कि वह बेहतर से बेहतर और सस्ती से मुफ्त स्वास्थ सुविधा को अपने स्वास्थ नेटवर्क के निचले स्तर पर लागू कर सके. इस आशय भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश को संबोधित करते हुए अहम बात कर सकते हैं.

You May Also Like

English News