इन राज्यों में आंधी-तूफान ने दी दस्तक, तस्वीरे देख आपके उड़ जायेंगे होश…

मौसम विभाग के अलर्ट के बाद कई राज्यों में तूफान ने दस्तक दे दी है। उत्तर प्रदेश के मथुरा, आगरा, कासगंज, गाजियाबाद, नोयडा में तूफान पहुंच चुका है। बताया जा रहा है कि मंगलवार को यह तूफान और भी कई जिलों तक पहुंच जाएगा। रिपोर्टस के मुताबिक सोमवार शाम धूल भरी आंधी चंडीगढ़, पंजाब और हरियाणा में पहुंच गई। सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कई राज्यों में स्कूल और कॉलेज बंद कर दिए गए हैं। 

सोमवार देर रात यहां करीब 11 बजे गुरुग्राम की तरफ से आंधी की रफ्तार 70 किमी प्रति घंटा रही। तेज हवाओं के साथ कई इलाकों में बारिश भी हुई। मौसम विभाग के मुताबिक ये पश्चिमी विक्षोभ था जो पंजाब, चंडीगढ़ और हरियाणा से होता हुआ यहां पहुंच गया। तेज आंधी से कई घरों के शीशे भी टूट गए। कैंट इलाके में एक पेड़ भी गिर गया। 

सोमवार शाम राजस्थान के बीकानेर में धूल भरा बवंडर आया। इसके असर से झुंझुंनू और सीकर में भी तेज आंधी चली। राजस्थान के श्रीगंगानगर में सोमवार रात 28 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी चली। मौसम विभाग ने प्रदेश के कई जिलों में अगले पांच दिनों तक धूलभरी आंधी के साथ तेज व हल्की बारिश होने का अनुमान है।

उत्तर प्रदेश के मेरठ में तेज धूल भरी आंधी चली। जिस कारण मंगलवार को सभी शैक्षिक संस्थान बंद करने के निर्देश दिए गए हैं।

त्रिपुरा में तूफान से करीब 1800 से अधिक घरों को नुकसान पहुंचा। इस दौरान यहां एक महिला भी इसकी चपेट में आ गई और उसकी मौत हो गई। यहां का सबसे प्रभावित जिला खोवई रहा। इससे पहले यहां रविवार को भी तूफान आया था जिस कारण करीब 2500 लोग सरकारी इमारतों में आश्र्य लेने को मजबूत हैं।

मौसम विभाग की चेतावनी के बाद चंडीगढ़ भी हाई अलर्ट पर है। यहां सोमवार तड़के झमाझम बारिश हुई। चंडीगढ़ के कुछ निजी स्कूलों को भी दो दिनों के लिए बंद रखा गया है।

हिमाचल प्रदेश में अगले 24 घंटों के अंदर भयंकर बारिश का अनुमान है। यहां ऊंचाई वाले इलाकों में हल्की बर्फबारी हुई जबकि निचले इलाकों में बारिश। कुल्लू, किन्नौर और लाहौल-स्पीती जिलों में हल्की बर्फबारी भी हुई। जिस कारण यहां केलॉन्ग का अधिकतम तापमान 3.5 डिग्री सेल्सियस रहा। इसके अलावा शिमला में भी तापमान सामान्य से 4-5 डिग्री नीचे रहा। 

यहां की चेनाब घाटी के ऊपरी इलाकों में सोमवार को बेमौसम बर्फबारी हुई, जिससे पूरा इलाका सर्दी की चपेट में आ गया है। साथ ही बड़ी संख्या में खानाबदोश परिवार और पशु वहीं फंस गए हैं।

तेज आंधी और बारिश के चलते मनोहरपुर और आंनदपुरा सहित कई इलाकों में हानी पहुंची। यहां तेज आंधी तूफान के बाद बारिश भी हुई।
उत्तराखंड के देहरादून में तेज बारिश के कारण कई पेड़ गिरे। इसके साथ ही यहां बिजली के खंबों को भी नुकसान पहुंचा है। मौके पर स्टेट डिजास्टर रिस्पांस फोर्स (SDRF) की टीम पहुंची।

You May Also Like

English News