इन 4 स्मार्टफोन्स में क्या है सबसे खास, क्यों इन्हें कहते हैं गूगल का स्मार्टफोन

Android One प्रोग्राम को सस्ते स्मार्टफोन्स के लिए शुरू किया गया था। इसकी पीछे की ये सोच थी कि सभी एंट्री लेवल डिवाइस को सीमलेस अपडेट्स मिल सके। लेकिन गूगल को यहां उतनी कामयाबी नहीं मिली जितनी की उम्मीद की जा रही थी। इसके बाद गूगल ने अपने Android One प्रोग्राम में बदलाव किए। गूगल ने Android One प्रोग्राम को बजट सेगमेंट के अलावा दूसरे बड़े सेगमेंट में भी लॉन्च किया गया। आज आप Android One स्मार्टफोन को 13,000 रुपये से लेकर 52,000 रुपये के सेगमेंट में देख सकते हैं।

Android One क्या है?

दरअसल जब आप वीवो, ओपो, शाओमी या कोई भी तीसरी पार्टी का एंड्रॉइड फोन खरीदते हैं, तो उसमे आपको कई फीचर्स ऐसे मिलते हैं जो गूगल के नहीं होते बल्कि इन कंपनियों के होते हैं। ऐसे में अलग से दिए गए ये फीचर्स यूजर्स के लिए कई बार परेशानी का कारण बन जाते हैं। जबकि, Android One प्रोग्राम में आने वाले स्मार्टफोन में वहीं फीचर्स या प्री-इस्टॉल्ड एप्स मिलते हैं जिन्हें गूगल की तरफ से दिया जाता है। इसके अलावा आपको पूरा फोन खाली मिलता है। इसके साथ आपको वही अपडेट्स मिलते हैं जो गूगल की तरफ से दिए जाते हैं, लेकिन ऐसा नहीं कि इन फोन में आप किसी दूसरे कोई एप्स को डाउनलोड नहीं कर सकते। अंतर यहां बस यही है कि आपको ये एप्स प्री-इंस्टॉल्ड नहीं मिलते हैं। ऐसे में जानते हैं कि वो कौन से स्मार्टफोन हैं जो Android One प्रोग्राम में आते हैं।

You May Also Like

English News