इस खबर को पढ़कर आप भी नाखून चबाना देंगे छोड़

आमतौर पर लोग चेहरे का जितना ध्यान रखते हैं उतना नाखूनों का नहीं रखते। लेकिन इन्हें भी उतनी ही देखरेख की जरूरत है। हम आपको बताने जा रहे हैं कि नाखून चबाने से क्या होता है।

इस खबर को पढ़कर आप भी नाखून चबाना देंगे छोड़

 नाखून चबाने की वजह तनाव, घबराहट या बोरियत हो सकती है। नाखून उंगलियों से दोगुने गंदे होते हैं। इनमें बैक्टीरिया की आशंका भी अधिक होती है। नाखून चबाने की आदत लगी रह जाए तो आपके व्यक्तित्व के साथ सेहत को भी बेहद नुकसान पहुंचा सकती है। नाखून चबाने वालों के नाखून दिखने में बहुत ही अजीब लगते हैं। जिससे लोगों को शर्मिंदगी भी उठानी पड़ती है।
नाखून चबाने के नुकसान
नाखून चबाने से पेट में साल्मोनेला ई कोलाई जैसे रोगजनक बैक्टीरिया शरीर मे प्रवेश कर जाते हैं। नाखूनों चबाने की वजह से पैरोनिशिया से पीड़ित होने का जोखिम बहुत ज्यादा होता है। पैरोनिशिया एक त्वचा संक्रमण है जो नाखून के आसपास की त्वचा में होता है।
नाखून चबाने से व्यक्ति के आसपास की त्वचा की कोशिकाओं को काफी क्षति पहुंचती है। इसके साथ ही नाखून चबाने वालों के पेट में बैक्टीरिया और दूसरे कीटाणु त्वचा में प्रवेश करते हैं। नाखून चबाने वाले लोगों में मानव पेपिलोमा वायरस या एचपीवी के कारण संक्रमण फैलने की आंशका बहुत अधिक होती है, जिससे नाखूनों पर गांठ बन जाती है।
नाखून चबाने वाले लोगों में मुंह बंद करने पर ऊपरी और निचले दांतों को एक साथ आने पर समस्या होती है। नाखून चबाने वालों को अपने हाथों की अच्छे से देखभाल करनी चाहिए। ऐसा न करने पर व्यक्ति बीमारियों से घिर सकता है। 

You May Also Like

English News