इस तरह हैट्रिक लेने वाले बद्री बने इतिहास के पहले गेंदबाज

नई दिल्ली : इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10 साल के इतिहास में हैट्रिक तो कई लगी, लेकिन एक दिन में दो अलग-अलग मैचों में दो हैट्रिक का कारनामा शुक्रवार को आईपीएल में पहली बार हुआ. 

#IPL10 : हैदाबाद ने टॉस जीतकर लिया गेंदबाजी का फैसला

आईपीएल के 10वें संस्करण में शुक्रवार को खेले गए 12वें मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के सैमुएल बद्री ने पहली हैट्रिक ली तो दिन के दूसरे मैच में गुजरात लायंस के एंड्रयू टाई ने दूसरी हैट्रिक ली. 

चैलेंजर्स के बद्री ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ हैट्रिक ली. वहीं टाई ने राइजिंग पुणे सुपरजाएंट के खिलाफ हैट्रिक पूरी की. टाई का यह आईपीएल में पदार्पण मैच भी था. चैलेंजर्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई को 143 रनों का लक्ष्य दिया था. चैलेंजर्स के कप्तान विराट ने पहला ओवर बद्री को दिया जिसमें उन्हें कोई सफलता नहीं मिली, लेकिन बद्री ने पारी के तीसरे और अपना दूसरे ओवर में हैट्रिक लगाई. 

बद्री ने तीसरे ओवर की दूसरी गेंद पर पार्थिव पटेल को क्रिस गेल के हाथों कैच कराया. ओवर की तीसरी गेंद पर बद्री ने मिशेल मैक्लेघन को मनदीप सिंह के हाथों लपकवाया. ओवर की चौथी गेंद पर मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा बद्री का शिकर बने. बद्री ने अपने कोटे के चार ओवरों में सिर्फ नौ रन दिए और चार विकेट लिए. हालांकि चैलेंजर्स की टीम यह मैच नहीं जीत सकी. 

मेडन ओवर में बद्री ने ली हैट्रिक 

इस हैट्रिक की खास बात ये थी कि बद्री ने जिस ओवर में हैट्रिक ली, वह मेडन ओवर था. यह टी-20 मैचों में वेस्टइंडीज के इस फिरकी गेंदबाज का 20वां मेडन ओवर था. वह ऐसा करने वाले क्रिकेट इतिहास के पहले गेंदबाज बन गए. सैम्युअल बद्री ने मैच में 9 रन देकर चार विकेट लिए. यह रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के किसी भी गेंदबाज का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है.

You May Also Like

English News