इस दो मुंहे सांप की कीमत है एक करोड़, यहां मिला

बीकानेर के नोखा में सोमवार को एक ऐसा सांप मिला है, जिसकी बाजार कीमत एक करोड़ रुपए तक की बताई जा रही है। नोखा में सोमवार सुबह एक सांप पकड़ने के एक्सपर्ट ने रैड सेंड बोआ कहे जाने वाले सांप को पकड़ा।
 
इस सांप की खास बात यह है कि इस सांप की पूंछ का आकार ही ऐसा होता है, जो मुंह की तरह नजर आता है। इस कारण यह देखने में दो मुंहा सांप लगता है। अंतरराष्ट्रीय बाजर में इसकी डिमांड भी बहुत होती है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत एक करोड़ तक बताई जा रही है। सूत्रों के अनुसार दो मुंहे सांप कहे जाने वाले रैड सैंड बोआ की भारत में दस से बीस लाख और अंतरराष्ट्रीय बाजार में एक करोड़ तक की है। यह कीमत सांप के वजन पर निर्भर होती है। एक किलो की कीमत एक करोड़ तक होती है।

वाइल्ड लाइफ एक्सपर्ट रोहित गंगवाल की मानें तो यह सांप शांत प्रवृति का होता है। इसमें जहर भी नहीं होता। यह इतना शांत होता है कि यदि किसी के घर में आ जाए, तो उसे आसानी से बाहर किया जा सकता है।

उनके अनुसार कुछ मिथ हैं, जैसे इस सांप की स्टीम से चेहरे की खोई रौनक लौट जाती है, या इसे खाने से आदमियों की पौरुष क्षमता बढती है। यह सब अफवाहें हैं, जो इसकी कीमत के लिए जिम्मेदार हैं। कई तंत्र-मंत्र वाले लोग भी इस सांप का इस्तेमाल करते हैं। वे इस सांप की बलि तक चढ़ाते हैं। कुछ मानते हैं कि इस सांप की स्टीम से चेहरे की खोई रौनक लौट जाती है, या इसे खाने से आदमियों की पौरुष क्षमता बढती है।

रोहित गंगवाल उनके अनुसार इस सांप की लंबाई तीन साढ़े तीन फीट की होती है। इसे दुंभी भी कहा जाता है। एक खास बात ये भी है कि जो पक्षी सांप भक्षण करते हैं, उनके लिए यह सॉफ्ट टारगेट होता है। सांप खाने वाले पक्षी सबसे पहले इस सांप के मुंह पर हमला करते हैं। जब कोई इस पर हमला करता है, तो यह अपना मुंह छिपा लेता है और मुंह के आकार की पूंछ को आगे कर देता है। जिससे इसे बचने का मौका मिल जाता है।

विशेषज्ञों के अनुसार इन सांपों की तस्करी बड़े पैमाने पर की जाती है। इनका रैकेट देश के कई हिस्सों में चल रहा है। इनमें बिहार,बंगाल,मध्य प्रदेश, उत्तरप्रदेश और हरियाणा के बीच संचालित है।

You May Also Like

English News