इस फिल्म को मिला था बाहुबली-2 का नाम और फिर हुआ ये, शूटिंग हुई थी MP में….

भोपाल/महेश्वर। कल बाहुबली-2 रिलीज़ होने जा रही है जिसके लिए दर्शकों में खासा उत्साह है। लेकिन क्या आपको पता है कि कुछ महीने पहले ही एक फिल्म रिलीज़ हुई थी जिसे बाहुबली-2 के नाम से जाना जा रहा था। इसकी वजह थी इसकी शूटिंग जिसके कारण इसकी तुलना बाहुबली-2 से की जा रही थी।इस फिल्म को मिला था बाहुबली-2 का नाम और फिर हुआ ये, शूटिंग हुई थी MP में....हो रहा था बुजुर्ग का अंतिम संस्कार, तभी इस विदेशी युवती ने किया कुछ ऐसा जिससे सब रह गये दंग…

महेश्वर में नर्मदा के घाटों पर शूट हुई तेलुगू फिल्म गौतमीपुत्र शतकरणी कल रिलीज़ होने वाली है। फिल्म में दक्षिण भारत के मशहूर अभिनेता सुपरस्टार नंदामूरी बालाकृष्ण, श्रेया सरन और हेमा मालिनी मुख्य भूमिका में नजर आएंगे। इस फिल्म के जरिए हेमा मालिनी तकरीबन 50 साल बाद तेलुगु फिल्म इंडस्ट्री में वापसी कर रही हैं।

आपको बता दें फिल्म की शूटिंग के लिए यूनिट के 300 सदस्यों ने मध्य प्रदेश के महेश्वर में डेरा डाला हुआ था। बड़े बजट की इस फिल्म को शूर करने के लिए डारेक्टर को जैसी लोकेशन की तलाश थी उसकी खोज महेश्वर पर आकर खत्म हुई। इस बारे में बात करते हुए फिल्म के निर्देशक कृष ने बताया कि हमारी फिल्म जिस एरा की बात करती है उसके लिए हमें रियल लाइफ लोकेशन की ही जरुरत थी और महेश्वर का किला इस भव्यता को पूरा करता है।

बाहुबली जैसी भव्य होगी फिल्म
इस फिल्म के डारेक्टर कृष का कहना है कि फिल्म को लार्ज स्केल पर शूट किया जा रहा है और इसमें बाहुबली फिल्म की तरह स्पेशल इफ़ेक्ट नजर आएंगे। उन्हें उम्मीद है कि ऐतिहासिक पृष्ठभूमि पर बनी ये फिल्म राजामौली की फिल्म बाहुबली की तरह ही अपना अलग इतिहास रचेगी। हाल ही में एक्टर के बर्थडे पर फिल्म का फर्स्ट लुक भी रिवील किया गया था।

अब तक ये दृश्य हुए शूट
महेश्वर के घाट पर शुरू हुई फिल्म गौतमीपुत्र शतकरणी की शूटिंग के दूसरे दिन मां गौतमी (हेमा मालिनी) से मिलने आए युवराज शतकरणी (नंदामूरी बालाकृष्ण) के विभिन्न दृश्यों को शूट किया गया। युवराज को अपने बीच पाकर प्रजा ने जय हो एकवीरा के जयघोष लगाते हुए उनका स्वागत किया। यह फिल्म फर्स्ट फ्रेम इंटरटेनमेंट के बैनर तले बन रही है।

फिल्म वीर शतकरणी के शौर्य पर आधारित
फिल्म के डारेक्टर कृष राधाकृष्ण ने बताया कि फिल्म दूसरी शताब्दी की पृष्ठभूमि पर बन रही है। उन्होंने बताया कि फिल्म वीर शतकरणी के शौर्य और वीरता पर आधारित है। वह अपने नाम के पहले मां के नाम का उपयोग करते थे। उन्हें इतिहास में गौतमी पुत्र शतकरणी के नाम से जाना जाता है। फिल्म के ज्यादातर हिस्सों की शूटिंग देश के अन्य भागों में हो चुकी है। उन्होंने कहा कि महेश्वर में हमारी टीम करीब 20 दिन रुकेगी। फिल्म 12 जनवरी 2017 को रिलीज होगी।

हेमा को बालाकृष्ण ने साड़ी दी गिफ्ट
सूत्रों के मुताबिक फिल्म की शूटिंग पर महेश्वर में पहली दफा हेमा से मुलाकात के दौरान बालाकृष्ण ने हेमा मालिनी को लेपाक्षी से बनी साडी गिफ्ट की। ये साड़ी बालाकृष्ण के विधानसभा क्षेत्र हिंदुपुरमें बनाई जाती है। एक्टर से ये गिफ्ट पाकर हेमा बेहद खुश नजर आई और उन्होंने बातचीत में अपने उन दिनों को याद किया जब वो बालाकृष्ण के पिता और तेलुगु सुपरस्टार एनटीआर के साथ काम करती थी।

हेमा-श्रेया ने खरीदी महेश्वरी साड़ियां
महेश्वर की साड़ियाँ दुनियाभर में अपने बेहतरीन सिल्क और कारीगरी के लिए पहचानी जाती हैं। शूटिंग के लिए महेश्वर पहुंची हेमा मालिनी ने होटल देवराज पैलेस में महेश्वरी साड़ियां पसंद की। हेमा ने सात साड़ियां पसंद कर खरीदी। हेमा के अलावा एक्ट्रेस श्रेया सरन ने भी अपनी मां के लिए महेश्वरी साडियां खरीदी।

महेश्वर में पहली भी हो चुकी शूटिंग
महेश्वर के घाटों में बॉलीवुड की कई बड़ी फिल्मों की शूटिंग पहले भी हो चुकी है। इससे पहले सनी देओल, बॉबी और धर्मेन्द्र की फिल्म यमला, पगला दीवाना, अर्जुन कपूर व सोनाक्षी स्टारर फिल्म तेवर के एक गीत राधा नाचेगी और संजय लीला भंसाली की फिल्म बाजीराव मस्तानी की शूटिंग भी महेश्वर के घाट पर ही हुई है। इतना ही नहीं शाहरुख़ खान की अशोका के कई महत्वपूर्ण दृश्यों की शूटिंग भी यहीं हुई है।

You May Also Like

English News